comScore

नृपेंद्र मिश्रा बने रहेंगे पीएम मोदी के प्रमुख सचिव, मिला कैबिनेट मंत्री का दर्जा

नृपेंद्र मिश्रा बने रहेंगे पीएम मोदी के प्रमुख सचिव, मिला कैबिनेट मंत्री का दर्जा

हाईलाइट

  • नृपेंद्र मिश्रा अगले पांच साल तक बने रहेंगे पीएम मोदी के प्रमुख सचिव
  • रिटायर्ड IAS अधिकारी पीके मिश्रा को पीएम का अपर प्रमुख सचिव बनाया गया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रिटायर्ड IAS अधिकारी डॉ. नृपेंद्र मिश्रा अगले पांच साल तक के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रमुख सचिव बने रहेंगे। इस बार उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा भी दिया गया है। इसके अलावा प्रधानमंत्री के अपर प्रमुख सचिव के रूप में डॉ. पीके मिश्रा को नियुक्त किया गया है। कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने मंगलवार को एक विज्ञप्ति जारी कर इसकी जानकारी दी। 

कैबिनेट की अपॉइंटमेंट कमेटी ने दूसरी बार डॉ नृपेंद्र मिश्रा को प्रधानमंत्री मोदी का प्रमुख सचिव नियुक्त किया है। यह आदेश 31 मई, 2019 से प्रभावी हो गया है। डॉ. मिश्रा को उनके कार्यकाल के दौरान कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिला रहेगा। इसके अलावा रिटायर्ड आईएएस अधिकारी डॉ. प्रमोद कुमार मिश्रा (पीके मिश्रा) को फिर से प्रधानमंत्री का अपर प्रमुख सचिव (एडिशनल प्रिंसिपल सेक्रेटरी) बनाया गया है। यह आदेश भी 31 मई 2019 से प्रभावी हो गया है। उन्हें भी कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया है। इन दोनों अधिकारियों का कार्यकाल पीएम के कार्यकाल के साथ ही पूरा होगा। 

डॉ. नृपेंद्र मिश्रा 1967 बैच के उत्तरप्रदेश कैडर के अधिकारी हैं। नृपेंद्र मिश्रा 28 मई 2014 को प्रधानमंत्री मोदी के प्रमुख सचिव नियुक्त किए गए थे। वे ट्राई के चेयरमैन भी रह चुके हैं। 2009 में वे इस पद से रिटायर हुए थे। इससे पहले एनडीए की पिछली सरकार में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) रहे अजित डोभाल पर भी प्रधानमंत्री ने फिर भरोसा जताते हुए उन्हें दोबारा अगले पांच साल के लिए NSA नियुक्त किया। अजित डोभाल को भी कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया है।

कमेंट करें
pK3yq