comScore

चिदंबरम के समर्थन में राहुल-प्रियंका, कहा- कांग्रेस नेता का चरित्र हनन किया जा रहा

चिदंबरम के समर्थन में राहुल-प्रियंका, कहा- कांग्रेस नेता का चरित्र हनन किया जा रहा

हाईलाइट

  • INX मीडिया करप्शन केस में फंसे पी. चिदंबरम के समर्थन में बोलीं प्रियंका गांधी
  • प्रियंका ने कहा, हम चिदंबरम के साथ हैं। सच्चाई के लिए लड़ते रहेंगे, चाहे कोई भी परिणाम हो

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। INX मीडिया करप्शन केस में फंसे कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। ऐसे में कांग्रेस पार्टी खुलकर उनका समर्थन कर रही है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी चिदंबरम के समर्थन में उतर आए हैं। राहुल ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, सत्ता का दुरुपयोग कर कांग्रेस नेता का चरित्र हनन किया जा रहा है। वहीं प्रियंका ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, चिदंबरम केंद्र की असफलताओं को उजागर करने की सजा भुगत रहे हैं, लेकिन हम सब उनके साथ हैं और सच्चाई के लिए लड़ते रहेंगे।

चिदंबरम के खिलाफ ईडी और सीबीआई की कार्रवाई पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा, चिदंबरम के चरित्र हनन के लिए मोदी सरकार ईडी, सीबीआई और मीडिया के एक वर्ग का इस्तेमाल कर रही है। मैं सत्ता के इस घृणित दुरुपयोग की कड़ी निंदा करता हूं।

प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम का समर्थन करते हुए ट्वीट कर कहा, वे केंद्र सरकार की असफलताओं को उजागर करने पर शर्मनाक रूप से केंद्र का शिकार हो रहे हैं। प्रियंका ने कहा, योग्य और सम्मानित राज्यसभा सदस्य पी. चिदंबरम ने दशकों तक देश की सेवा की है जिनमें वित्त मंत्री और गृह मंत्री के रूप में की गई उनकी सेवा भी शामिल है। वह बेहिचक सत्ता की हकीकत बयां करते हैं। सरकार की असफलताएं उजागर करते रहते हैं, लेकिन कायर सचाई से असहज हो जाते हैं, इसलिए उन्हें शर्मनाक तरीके से शिकार बनाया जा रहा है। हम उनके साथ खड़े हैं और सचाई के लिए लड़ते रहेंगे, चाहे परिणाम जो भी हो। 

आईएनएक्स मीडिया मामला फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) में कथित अनियमितताओं से संबंधित है। चिदंबरम पर साल 2007 में केंद्रीय वित्तमंत्री रहने के दौरान लगभग 300 करोड़ रुपये का विदेशी धन लेकर मीडिया समूह को एफआईपीबी मंजूरी देने में अनियमितता बरतने का आरोप है। पूर्व गृह और वित्त मंत्री चिदंबरम राष्ट्रीय सुरक्षा व आर्थिक मुद्दों पर केंद्र की भाजपा सरकार पर लगातार निशाना साधते रहे थे।

कमेंट करें
oSpiC