comScore

इंटरनेशनल क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी का समय पूरा हो गया है: गावस्कर

इंटरनेशनल क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी का समय पूरा हो गया है: गावस्कर

हाईलाइट

  • गावसकर ने कहा-वक्त आ गया है कि, धोनी को सम्मान के साथ विदा करना चाहिए
  • धोनी ने वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल के बाद कोई भी मैच नहीं खेला है

डिजिटल डेस्क। भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने महेंद्र सिंह धोनी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। गावस्कर ने कहा कि, अब इंटरनेशनल क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी का समय पूरा हो गया है। टीम मैनेजमेंट को जल्द दूसरे विकल्प तलाशने होंगे और अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप के लिए युवा खिलाड़ियों में इन्वेस्ट करना होगा। गावस्कर ने टी-20 वर्ल्ड कप के लिए ऋषभ पंत को अपनी पहली पसंद बताया। 

गावसकर ने एक समाचार चैनल से बातचीत में कहा कि- धोनी ने भारतीय क्रिकेट में बहुत योगदान दिया है, लेकिन अब उनसे आगे सोचने का समय आ गया है। वक्त आ गया है कि, धोनी को सम्मान के साथ विदा करना चाहिए। धोनी ने वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल के बाद कोई भी मैच नहीं खेला है। उन्होंने उसके बाद दो महीने का ब्रेक लिया था। इस कारण धोनी को वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका सीरीज के लिए नहीं चुना गया। उनकी जगह पंत को टीम में शामिल किया गया है। 

गावस्कर से पूछा गया कि क्या धोनी को बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज के लिए चुना जाना चाहिए। इस पर उन्होंने कहा, ‘‘नहीं, हमेंं उनसे आगे की सोचना चाहिए। धोनी की जगह कम से कम मेरी टीम में तो नहीं है। अगर आप टी-20 वर्ल्ड कप के बारे में पूछे तो मैं पंत के बारे में ही सोचूंगा।

गावस्कर ने कहा कि, अगर पंत सही नहीं हैं, तो उनके बाद संजू सैमसन सबसे बेहतर विकल्प हैं। उन्होंने कहा, ‘‘अगर मुझे एक विकल्प चुनना हो, तो मैं सैमसन के बारे में सोचूंगा। वे अच्छे विकेटकीपर के साथ-साथ बेहतरीन बल्लेबाज भी हैं।’’

इससे पहले भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने शनिवार को पूर्व कप्तान धोनी की तारीफ की थी। उन्होंने कहा था कि 38 साल के इस खिलाड़ी का कोई विकल्प नहीं है। कोहली ने कहा था, 'आप चाहे मानें या नहीं अनुभव हमेशा से मायने रखता है। कई खिलाड़ियों ने अतीत में इस बात को साबित किया है कि उम्र महज एक आंकड़ा भर है। यहां तक की धोनी ने भी अपने करियर में इस बात को कई बार साबित किया है। 

उन्होंने कहा था, 'एक बात उनमें सबसे अच्छी है कि वह हमेशा पहले भारतीय क्रिकेट के बारे में सोचते हैं। कब संन्यास लेना है यह उनका निजी फैसला है। किसी को इस मसले पर अपने विचार नहीं देना चाहिए। 

बता दें कि वर्ल्ड कप के दौरान धीमी बल्लेबाजी के कारण धोनी आलोचकों के निशाने पर आ गए थे। कई पूर्व खिलाड़ियों का कहना था कि धोनी को अब संन्यास ले लेना चाहिए। कोहली ने भी कुछ दिन पहले सोशल मीडिया पर धोनी और अपनी एक तस्वीर साझा की थी। जिसके बाद धोनी के संन्यास की खबरों को हवा मिल गई थी। जिसे बाद में धोनी की पत्नी साक्षी ने खारिज कर दिया था।

टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा था कि, ऋषभ पंत अगर वेस्टइंडीज दौरे के दौरान की गईं गलतियों को दोहराते रहेंगे तो उन्हें इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। बता दें कि साउथ अफ्रीका के खिलाफ मोहाली में खेले गए दूसरे टी-20 मैच में युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत नंबर 4 पर बल्लेबाजी करने के लिए उतरे और सिर्फ 4 रन बनाकर आउट हो गए थे। 

कमेंट करें
vgJY2