comScore

नीतीश के बच्चा कहने पर गुस्साए, 'नहीं हूं कच्चा, जनता को दे जो गच्चा'

November 15th, 2017 10:19 IST
नीतीश के बच्चा कहने पर गुस्साए, 'नहीं हूं कच्चा, जनता को दे जो गच्चा'

डिजिटल डेस्क, पटना। बिहार की सियासत में इन दिनों जुमलेबाजी का दौर चल पड़ा है। सियासत के अनुभवी नेता इन दिनों बच्चों से लोहा ले रहे हैं। जिसका करारा जवाब भी उन्हें इन्हीं बच्चों से मिल रहा है। सोमवार को बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को बच्चा कहकर संबोधित किया था। सीएम नीतीश ने लोकसंवाद कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, कि "तेजस्वी तो अभी बच्चे हैं, उनका क्या जवाब दें।" बस फिर क्या था बिहार की राजनीति के घाघ कहे जाने वाले लालू यादव के छोटे बेटे और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ट्विटर पर शुरू हो गए। 

तेजस्वी ने ट्विटर पर तीखा हमला करते हुए लिखा कि, 'बिहार में अब करोड़ों का शौचालय घोटाला ! घोटाला बाबू ईमानदार, जय हो...“जीरो टॉलरन्स बाबू।


तेजस्वी ने सीएम नीतीश कुमार को तरह-तरह से जवाब दिए। उन्होंने चार पंक्ति की कविता तक कह डाली... 

बच्चा को धोखा दे कर सत्ता को हथियाए

उस चच्चा का कुकर्म देख लाज भी शरमाए।

प्यारे चच्चा गौर से सुन लो यह है लोकतंत्र

बच्चा-बच्चा मिलकर देगा सबक सिखाए।।

हालांकि लालू ने खुद ही इसका जवाब दे दिया था, कि नीतीश जी जिसे आप बच्चा कह रहे है, वो चच्चा है तुम्हारा। वहीं तेजस्वी ने अपने ट्वीट में लिखा, कि आदरणीय चच्चा जी, आज बच्चा को ‘बाल दिवस’ पर आशीर्वाद ना सही, लेकिन शुभकामनाएं तो दे देते। बच्चा कहते हों तो बड़ो जैसा सलूक भी करो।  


तेजस्वी यहीं नहीं रुके उन्होंन आगे लिखा, कि "बच्चा कितना भी बड़ा क्यों ना हो जाए वो मां-पिता के लिए सदा बच्चा ही रहता है। नीतीश चाचा सही तो कह रहे है तेजस्वी अभी बच्चा है।


तेजस्वी ने एक और ट्वीट में कहा कि "चाचा लोकतांत्रिक मर्यादा को ताक पर रख यह भूल चुके हैं कि मैं बिहार में नेता प्रतिपक्ष हूं, और जो मैं बोलता हूं वो जनादेश की दिन-दहाड़े डकैती करने वाले खूंखार डकैतों के खिलाफ आम आदमी की आवाज है।

  
तेजस्वी ने लिखा, सीएम नीतीश जी आप मेरे आदरणीय है, इस नाते मैं आपको पलटकर बूढ़ा तो नहीं कहूंगा, लेकिन चाचा आपके द्वारा जनादेश की ठगी करने के बाद अगले दिन विधानसभा में इस बच्चे के सामने आपका मुंह लटका हुआ था। आपने अभी तक बच्चे के एक भी सवाल का जवाब नहीं दिया है।
  

बता दें कि सीएम नीतीश कुमार ने सोमवार को लालू प्रसाद के 10वीं बार राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष चुने जाने पर कहा कि आरजेडी लालू की पार्टी नहीं, बल्कि निजी संपत्ति है। वहीं जदयू के मुख्य प्रवक्ता सह विधान पार्षद संजय सिंह ने भी कहा कि "लालू प्रसाद ने तेजस्वी प्रसाद यादव को बच्चा रहने नहीं दिया, लेकिन तेजस्वी का दिमाग अभी छोटा ही है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी प्रसाद यादव न तो अपनी गिनती बच्चों में कर पाते हैं और न ही अपनी गिनती युवा नेताओं में कर पाते हैं। तेजस्वी देश के मात्र एक ऐसे व्यक्ति हैं, जिन्होंने 28 साल की उम्र में बिना कोई मेहनत किए अरबों की संपत्ति खड़ी कर ली है। अब देखना यह है कि तेजस्वी संजय सिंह को क्या जवाब देते हैं।  

Loading...
कमेंट करें
ivOuz
Loading...
loading...