comScore

आतंक के साए में महिला ने ट्रेन में किया सफर , अटेंडर ने की छेड़छाड़ 

आतंक के साए में महिला ने ट्रेन में किया सफर , अटेंडर ने की छेड़छाड़ 

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। गोंडवाना एक्सप्रेस से  यात्रा कर रही एक महिला को पिछले दिनों अटेंडर की छेड़खानी का शिकार होना पड़ा । इतना ही नहीं इस महिला ने जब इस संबंध में सुरक्षा कर्मचारियों से कार्रवाई की मांग की तो उन्होंने मामले पर पर्दा डालने की कोशिश की । इस तरह रेल सुरक्षा के बड़े-बड़े दावों की पोल खुली और महिला एवं उसके पति को सारी रात आतंक के साए में सफर करते हुए जबलपुर पहुंचना पड़ा । गोंडवाना एक्सप्रेस से जबलपुर आ रही एक सभांत घराने की महिला के साथ चलती ट्रेन में झांसी के पास कोच अटेंडर द्वारा छेड़खानी की गई। घटना को लेकर घंटों हंगामा होता रहा किंतु रेल अमला या सुरक्षा कर्मचारियों ने इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं की उल्टे महिला को ही कानूनी दांवपेच बताकर मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की जाती रही । महिला ने इस व्यवहार से आहत होकर आतंक के साए में पूरी रात जागकर अपनी यात्रा पूरी की । इस संबंध में सूत्रों द्वारा बताया गया है कि पीड़ित महिला अपने पति के साथ गोंडवाना एक्सप्रेस क्रमांक 22182 से जबलपुर आ रही थी । उनका रिजर्वेशन एसी कोच की 2 में बर्थ नंबर 1 पर था ऊपर वाली बर्थ पर उसके पति सो रहे थे जबकि नीचे की सीट पर वह थी।

झांसी के पास की छेड़खानी 

महिला ने बताया कि रात्रि लगभग 11:45 पर जब ट्रेन झांसी पहुंचने वाली थी उसी दौरान उसे ऐसा महसूस हुआ कि कुछ हलचल हो रही है उसे लगा कि उसके साथ कोई शारीरिक छेड़खानी हुई है। जैसे ही वह नींद से जागी तो एक व्यक्ति उसके सामने खड़ा था पूछने पर उसने बताया कि वह कोच अटेंडर सुरेंद्र सिंह है और तकिया चेक करने आया था । महिलाओं ने उसकी हरकतों पर आपत्ति जताई जिसके बाद कोच में हंगामा होने लगा और शोर सुनकर महिला के पति भी नींद से जाग गए । मामला बिगड़ता देख अटेंडर ने माफी मांगने का नाटक भी किया और किसी तरह वहां से भाग गया। महिला व उसके पति द्वारा इस मामले को लेकर सुरक्षा दस्ते को सूचना दी गई लेकिन किसी प्रकार से कोई राहत नहीं मिली ना ही घटना के बाद कोच में किसी तरह के सुरक्षा के इंतजाम किए गए। इस घटना से भयभीत पति  पत्नी ने पूरी रात जागकर रेल प्रशासन को कोसते हुए अपनी यात्रा पूरी की । 

सुरक्षा को लेकर गंभीर 

जीआरपी जबलपुर रेल यात्रियों की सुरक्षा को लेकर पूरी तरह गंभीर है । इस तरह की घटना संज्ञान में आने व ऐसे किसी मामले में पीड़ित महिला द्वारा यदि शिकायत करती है ,तो आरोपी कोई भी हो उसे बख्शा नहीं जाएगा। - सुनील जैन एसआरपी जबलपुर

कमेंट करें
iM7Lf