सीडब्ल्यूजी 2022 : 12 भारतीय भारोत्तोलकों ने किया क्वालीफाई

February 28th, 2022

हाईलाइट

  • आयोजन में अपने अभियान का समापन आठ पदकों के साथ किया

डिजिटल डेस्क, सिंगापुर। टोक्यो ओलंपिक रजत पदक विजेता मीराबाई चानू (महिला 55 किग्रा), बिंद्यारानी देवी (महिला 59 किग्रा), विकास ठाकुर, वेंकट राहुल रागला (दोनों पुरुषों 96 किग्रा) और अन्य सहित बारह भारोत्तोलकों ने सिंगापुर भारोत्तोलन इंटरनेशनल में पदक जीतकर राष्ट्रमंडल खेलों 2022 के लिए क्वालीफाई किया है।

विकास ठाकुर और वेंकट राहुल रागला ने रविवार को पुरुषों की 96 किग्रा स्पर्धा में क्रमश: स्वर्ण और कांस्य पदक जीते, जबकि पोपी हजारिका (महिला 64 किग्रा), उषा कुमारा (महिला 87 किग्रा) ने राष्ट्रमंडल खेलों में अपना स्थान पक्का करने के लिए पदक जीते हैं। भारत ने इस आयोजन में अपने अभियान का समापन आठ पदकों के साथ किया, जिसमें छह स्वर्ण और एक रजत और कांस्य शामिल हैं।

इससे पहले, शुक्रवार को नए भार वर्ग (महिला 55 किग्रा) में भाग लेने वाली मीराबाई चानू ने बिंद्यारानी देवी (महिला 59 किग्रा), संकेत महादेव और चनंबम ऋषिकांत सिंह (दोनों पुरुषों की 55 किग्रा) के साथ भी पदक जीतकर राष्ट्रमंडल खेलों 2022 के लिए क्वालीफाई किया था।

इन परिणामों से सिंगापुर इंटरनेशनल के लिए पंजीकरण कराने वाले सभी आठ भारतीयों ने पदक जीते और जुलाई-अगस्त में होने वाले बर्मिघम 2022 खेलों में अपना स्थान हासिल किया। भारत के पास अब बर्मिघम में होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के लिए 12 भारोत्तोलकों ने क्वालीफाई कर लिया है।

जेरेमी लालरिननुंगा, अचिंता शुली, अजय सिंह और पूर्णिमा पांडे ने पिछले साल दिसंबर में राष्ट्रमंडल भारोत्तोलन चैंपियनशिप 2021 में अपने-अपने वर्ग में स्वर्ण पदक जीतकर अपना स्थान हासिल किया था।

आईएएनएस