दैनिक भास्कर हिंदी: उपलब्धि: अमित पंघल IOC की बॉक्सिंग टास्क फोर्स रैंकिंग में वर्ल्ड नंबर-1

February 13th, 2020

हाईलाइट

  • ओलंपिक क्वालीफायर के लिए IOC की बॉक्सिंग टास्क फोर्स रैंकिंग में अमित पंघल वर्ल्ड नंबर 1 बने
  • अमित इस कैटेगरी में टॉप रैंकिंग पाने वाले एक दशक में पहले भारतीय मुक्केबाज भी बन गए हैं
  • अमित से पहले 2009 में ओलंपिक ब्रॉन्ज मेडलिस्ट विजेंदर सिंह को इस कैटेगरी में नंबर एक स्थान मिला था

डिजिटल डेस्क। वर्ल्ड सिल्वर मेडलिस्ट भारत के स्टार मुक्केबाज अमित पंघाल को अगले महीने होने वाले ओलंपिक क्वालीफायर से पहले IOC की बॉक्सिंग टास्क फोर्स ने 52KG कैटेगरी की रैंकिंग में नंबर एक स्थान दिया है। अमित इस कैटेगरी में टॉप रैंकिंग पाने वाले एक दशक से अधिक समय में पहले भारतीय मुक्केबाज भी बन गए हैं। इससे पहले 2009 में ओलंपिक ब्रॉन्ज मेडलिस्ट विजेंदर सिंह को इस कैटेगरी में नंबर एक स्थान मिला था। तब वह इस कैटेगरी में टॉप रैंकिंग पर रहने वाले पहले भारतीय मुक्केबाज बने थे। अमित ने 2017 के बाद से शानदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने 2018 में कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीते हैं। पिछले साल अमित एशियन चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने के बाद वर्ल्ड चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतने वाले पहले भारतीय बने थे। 

अमित रैंकिंग लिस्ट में 420 अंक के साथ पहले नंबर पर
24 साल के अमित इंटरनेशनल ओलंपिक समिति (IOC) की बॉक्सिंग टास्क फोर्स द्वारा जारी की गई रैंकिंग लिस्ट में 420 अंकों के साथ पहले नंबर पर हैं। IOC की टास्क फोर्स इस साल के अंत में टोक्यो में ओलंपिक क्वालीफायर और मुख्य समारोह का आयोजन करेगी। क्योंकि अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) वर्तमान में कथित वित्तीय और प्रशासनिक कुप्रबंधन के लिए निलंबित है। रैंकिंग 2019 में हुए मेंस-विमेंस कॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप, 2 वर्ल्ड चैंपियनशिप और अन्य गेम्स को ध्यान में रखकर जारी की गई है। एशियाई ओलंपिक क्वालीफायर अगले महीने जॉर्डन के अम्मान में आयोजित किए जाएंगे। 

मैरी कॉम 51KG कैटेगरी में 5वें नंबर पर
वहीं विमेंस रैंकिंग में छह बार की वर्ल्ड चैंपियन एम सी मैरी कॉम को 51KG कैटेगरी में 5वें नंबर पर रखा गया है। पिछले साल अपना 8वां वर्ल्ड मेडल जीतने वाली मैरी कॉम के 225 अंक हैं। उनकी प्रतिद्वंद्वी निकहत ज़ेरेन 75 अंकों के साथ रैंकिंग में 22वें स्थान पर हैं। भारत की लवलीना बोरगोहिन को 69KG कैटेगरी में तीसरा स्थान मिला है। 22 साल की बोरगोहिन ने 2 बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीता है। 2 बार की वर्ल्ड और एशियाई सिल्वर मेडलिस्ट सोनिया चहल को विमेंस 57KG कैटेगरी में 10वां स्थान मिला है। 

अन्य भारतीयों में एशियन सिल्वर मेडलिस्ट कविंदर सिंह बिष्ट  57KG कैटेगरी में 190 अंकों के साथ 7वें स्थान पर हैं। वहीं पूर्व वर्ल्ड ब्रॉन्ज मेडलिस्ट गौरव बिधूड़ी 32वें स्थान पर हैं। मेंस 63KG कैटेगरी में वर्ल्ड ब्रॉन्ज मेडलिस्ट मनीष कौशिक 12वें स्थान पर हैं। वहीं इसी कैटेगरी में चार बार के एशियाई-पदक विजेता शिव थापा 36वें स्थान पर हैं। तीन बार के कॉमनवेल्थ गेम्स पोडियम फिनिशर अनुभवी मनोज कुमार 69KG कैटेगरी में 71वें स्थान पर हैं। वहीं आशीष इसी कैटेगरी में 22वें नंबर पर हैं।