संभावना: प्रो कबड्डी लीग सीजन 9 में 500 से अधिक कबड्डी खिलाड़ियों के मैदान में उतरने की उम्मीद

July 22nd, 2022

हाईलाइट

  • प्रो कबड्डी लीग सीजन 9 में 500 से अधिक कबड्डी खिलाड़ियों के मैदान में उतरने की उम्मीद

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पीकेएल के आयोजक मशाल स्पोर्ट्स के अनुसार, जब प्रो कबड्डी लीग सीजन 9 के खिलाड़ियों की नीलामी 5-6 अगस्त को मुंबई में होगी, तो 500 से अधिक कबड्डी खिलाड़ियों के मैदान में उतरने की उम्मीद है। आयोजकों ने शुक्रवार को कहा कि लोकप्रिय लीग में प्रतिस्पर्धा के लिए अधिक युवाओं को लाने के लिए खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स, 2021 की शीर्ष दो टीमों के 24 खिलाड़ियों को नीलामी पूल में शामिल किया जाएगा।

खिलाड़ियों की नीलामी में डोमेस्टिक, ओवरसीज और न्यू यंग प्लेयर्स (एनवाईपी) को चार कैटेगरी- ए, बी, सी और डी में बांटा जाएगा। खिलाड़ियों को आगे प्रत्येक श्रेणी में ऑलराउंडर, डिफेंडर्स और रेडर्स के रूप में विभाजित किया जाएगा।

प्रत्येक श्रेणी के लिए आधार मूल्य : श्रेणी ए- 30 लाख रुपये, श्रेणी बी- 20 लाख रुपये, श्रेणी सी- 10 लाख रुपये और श्रेणी डी- 6 लाख रुपये। सीजन 9 के लिए प्रत्येक फ्रैंचाइजी के लिए उसके दस्ते में उपलब्ध कुल वेतन पर्स 4.4 करोड़ रुपये है। लीग के कमिश्नर अनुपम गोस्वामी ने कहा, हर सीजन में नए प्रतिभाशाली खिलाड़ियों का उदय हुआ है और मुझे यकीन है कि इस साल भी हमारे लिए बहुत सारे सरप्राइज हैं।

मैं खिलाड़ियों की नीलामी में खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स की युवा प्रतिभाओं का स्वागत करने के लिए उत्सुक हूं। पीकेएल सीजन 9 का आयोजन एकेएफएल के तहत राष्ट्रीय कबड्डी पारिस्थितिकी तंत्र में हमारे हितधारकों और सहयोगियों के साथ मिलकर किया जाएगा। पीकेएल टीमों के पास लीग नीतियों के अनुसार अपने संबंधित पीकेएल सीजन 8 के खिलाड़ियों को रिटेन करने का विकल्प भी है।

अडानी स्पोर्ट्स लाइन के हेड सत्यम त्रिवेदी ने कहा, सीजन 8 के सफल होने के बाद सभी खिलाड़ी एक बार फिर से मैट पर कदम रखने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। हम गुजरात जायंट्स की तरह कुछ रोमांचक खिलाड़ियों के लिए बोलियों की प्रतीक्षा कर रहे हैं और आगामी सीजन 9 के लिए एक मजबूत टीम का निर्माण कर रहे हैं।

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.