comScore

बिहार: वर्चुअल मोड से बाहर आने की तैयारी में राजनीतिक दल

October 13th, 2020 13:00 IST
 बिहार: वर्चुअल मोड से बाहर आने की तैयारी में राजनीतिक दल

हाईलाइट

  • बिहार: वर्चुअल मोड से बाहर आने की तैयारी में राजनीतिक दल

पटना, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। कोरोना काल में हो रहे बिहार विधानसभा चुनाव के प्रचार अभियान में वर्चुअल रूप से प्रचार कर रही पार्टियां अब इससे बाहर निकलने की तैयारी में हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने तो बिहार के गया से इसकी शुरूआत कर दी।

कोरोना काल में हो रहे बिहार विधानसभा चुनाव में कई परिवर्तन देखे जा रहे हैं। इसके लिए प्रारंभ में वर्चुअल रैली पर ही जोर दिया गया था। बाद में हालांकि छोटी रैलियां करने की अनुमति मिल गई।

इसके बाद पार्टी के नेता राजधानी छोडकर लोगों के बीच जाने लगे। हालांकि इस दौरान कोरोना काल के सभी प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है।

भाजपा के एक नेता कहते हैं कि भाजपा ने वर्चुअल मोड से बाहर आते हुए तमाम वरीय पदाधिकारियों को क्षेत्रों में भेजना शुरू कर दिया गया है। बूथ स्तर पर भी पार्टी ने कार्यकतार्ओं को आम मतदाताओं से संपर्क करने को कहा गया है। पार्टी का लक्ष्य मतदान के पहले हर वोटर तक हर हाल में पहुंचने का है।

सूत्रों के मुताबिक, पार्टी ने तमाम पदाधिकारियों को मुख्यालय छोड़ने का फरमान दे दिया गया है। भाजपा ने इसके लिए हेलिकॉप्टर भी मंगवाए हैं। उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सोमवार को झंझारपुर में प्रत्याशी नीतीश मिश्रा के नामांकन में भाग लिया तथा नवादा के वारिसलीगंज में एक सभा की।

भाजपा के बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने जमुई, बांका में बैठक की और भागलपुर के कहलगांव में जनसंवाद किया। प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने भी प्रचार किया।

इधर, जदयू भी अब वर्चुअल मोड से बाहर निकलने की योजना बना रही है। मुख्यमंत्री और जदयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने मंगलवार को कहा कि कोरोना काल में हो रहे चुनाव को लेकर अब तक वर्चुअल रूप से लोगों से संपर्क किया गया, लेकिन अब बुधवार से लोगों के बीच पहुंचूंगा। उन्होंने कहा कि पहले चुनावों में तो सभी क्षेत्रों में पहुंच जाते थे, लेकिन इस चुनाव में समय कम है।

इधर, राजद के नेता भी अब वर्चुअल मोड से बाहर आने की योजना बना रहे हैं। राजद के एक नेता कहते हैं कि तेजस्वी यादव भी बुधवार से क्षेत्रों में निकलेंगे और लोगों से रूबरू होंगे।

बिहार के चुनावी मैदान में उतरे अन्य दल भी अब वर्चुअल मोड से बाहर आने के साथ ही डोर टू डोर कैंपेन पर जेार दे रहे हैं।

बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा के लिए तीन चरणों में होने वाले चुनाव के लिए मतदान 28 अक्टूबर, तीन नवंबर और सात नवंबर को होगा जबकि मतगणना 10 नवंबर को होगी।

इस चुनाव में राजद जहां कांग्रेस और वमापंथी दलों के साथ चुनावी मैदान में है वहीं भाजपा और जदयू सहित चार दल मिलकर चुनावी मैदान में ताल ठोंक रहे हैं।

एमएनपी-एसकेपी

कमेंट करें
bJ9R7