दैनिक भास्कर हिंदी: West Bengal Election: कोलकाता सहित 40 सीटों के लिए विशेष अभियान शुरू कर रही भाजपा    

April 14th, 2021

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के लिए विशेष रूप से डिजाइन किए गए अभियान की शुरुआत कर रही है, जो ग्रेटर कोलकाता क्षेत्र में फैली 40 सीटों पर केंद्रित है, जिसे प्रेसिडेंशियल एरिया भी कहा जाता है। भाजपा मतदाताओं को विशेष रूप से क्षेत्र और राज्य के लिए अपने दृष्टिकोण के बारे में बताने के लिए इस विशेष अभियान को शुरू कर रही है। यही नहीं, पार्टी उनका समर्थन प्राप्त करने के लिए पेशेवरों (प्रोफेशनल) से भी संपर्क कर रही है।

पश्चिम बंगाल के एक भाजपा नेता के अनुसार, अभियान को कोलकाता शहर के सामने शासन और बुनियादी ढांचे से संबंधित कई मुद्दों को प्रकाश में लाने के साथ ही शहरी क्षेत्र की अनूठी विशेषताओं को उजागर करने के लिए डिजाइन किया गया है। पार्टी कोलकाता और उसके आसपास बड़े पैमाने पर सार्वजनिक आउटरीच अभियान शुरू करेगी, जिसमें भगवा पार्टी डॉक्टरों, वकीलों और अन्य पेशेवरों तक पहुंच स्थापित करेगी।

भाजपा के एक नेता ने कहा, पार्टी के विभिन्न राष्ट्रीय और राज्य स्तरीय नेता कोलकाता में रहने वाले विभिन्न समुदायों तक पहुंचेंगे, ताकि उनके साथ कोलकाता और विशेष रूप से राज्य के लिए भाजपा के दृष्टिकोण को साझा किया जा सके। उन्होंने कहा कि प्रभावी रूप से आम जनता तक पहुंचने और लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए, यह अभियान शाम को उन क्षेत्रों में आयोजित होगा, जहां लोग आसानी से पहुंच सकेंगे। भाजपा नेता ने बताय कि इसे हाउसिंग सोसायटी से लेकर सामुदायिक केंद्रों और अन्य ऐसे स्थान, जहां आसानी से पहुंचा जा सके, आयोजित किया जाएगा।

नंदीग्राम के भाजपा उम्मीदवार सुवेंदु अधिकारी और पश्चिम बंगाल इकाई के सह प्रभारी अमित मालवीय ने डॉक्टरों के साथ एक बैठक की। मालवीय ने डॉक्टरों से मुलाकात के बाद एक ट्वीट में यह जानकारी दी है। उन्होंने इस ट्वीट में उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि डॉक्टरों की समाज में महत्वपूर्ण भूमिका है और अब वह समय है, जब उन्हें अपने पेशेवर काम से परे आगे आने की जरूरत है।

2009 के लोकसभा चुनावों में भाजपा ने युवाओं और पेशेवरों तक पहुंचने के लिए एक अलग समूह फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी का गठन किया था। समूह को राजनीतिक प्रक्रिया के साथ युवाओं को जोड़ने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी उस समय पार्टी के कोषाध्यक्ष और राज्यसभा सांसद केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के दिमाग की उपज थी। 2014 में समूह को पुनर्जीवित किया गया और पार्टी के मिशन 272 प्लस अभियान के हिस्से के रूप में इसी तरह का अभियान चलाया गया। पार्टी के एक नेता ने कहा, 2019 के आम चुनावों में स्वयंसेवक और पेशेवर, जिन्होंने गतिविधियों में भाग लिया था, वे भाजपा से नहीं थे मगर वह भाजपा की ओर झुक गए थे।

भाजपा नेता कोलकाता के लिए पार्टी के दृष्टिकोण के बारे में मतदाताओं और पेशेवरों को समझाएंगे। भाजपा नेता ने कहा, कोलकाता को राज्य और पूरे पूर्वी भारत के विकास का इंजन बनाना हमारा विजन है। हम विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचे का निर्माण करने, अपनी अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने, स्वच्छता सुनिश्चित करने और एक सुरक्षित वातावरण प्रदान करके कोलकाता के लिए असली परिवर्तन लेकर लाएंगे।

एक अन्य भाजपा नेता ने कहा कि भगवा पार्टी का मानना है कि कोलकाता भारत की सांस्कृतिक राजधानी है और इसने हमेशा साहित्य, आध्यात्मिकता, संगीत और सिनेमा की उन्नति का मार्ग प्रशस्त किया है। उन्होंने कहा कि कोलकाता भारत के इतिहास में कई महत्वपूर्ण आंदोलनों का घरेलू मैदान रहा है। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि अतीत की राज्य सरकारों द्वारा उपेक्षा के कारण, शहर और इसके लोग कई मोचरें पर कई समस्याओं का सामना कर रहे हैं, जिसमें जर्जर होता बुनियादी ढांचा, अपर्याप्त स्वास्थ्य सुविधाएं, आर्थिक विकास की कमी और महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बढ़ती चिंताएं शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...