comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

बंगाल में गरजे नड्डा: बोले- ममता ने मां, माटी और मानुष को कलंकित किया, यहां तानाशाही और तोलबाजी वाली सरकार है

बंगाल में गरजे नड्डा: बोले- ममता ने मां, माटी और मानुष को कलंकित किया, यहां तानाशाही और तोलबाजी वाली सरकार है

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल में विधानसभा के चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आते जा रहे हैं, वैसे-वैसे राजनीतिक पार्टियां अपनी जीत के लिए जी जान से लगी हुई हैं। इस बीच बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा परिवर्तन यात्रा के तहत पश्चिम बंगाल के दौरे पर हैं। मंगलवार को बीरभूमि पहुंचकर उन्होंने तारापीठ मंदिर में पूजा अर्चना कर रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला।

इस दौरान उन्होंने कहा कि यह परिवर्तन यात्रा असल में पश्चिम बंगाल में परिवर्तन करने के लिए निकली है। यह परिवर्तन यात्रा बंगाल में ममता बनर्जी ने जिस तरह से राज चलाया है उस राज के खिलाफ परिवर्तन लाने के लिए है। बंगाल परिवर्तन चाहता है। नड्डा ने कहा कि ममता बनर्जी को न मां की चिंता है और न ही माटी से प्यार है, उनको केवल तानाशाही से मतलब है।

नड्डा को बीच में ही भाषण रोकना पड़ा
संबोधन के दौरान मंच पर माइक खराब हुआ तो नड्‌डा को बीच में ही भाषण रोकना पड़ा, फिर उन्होंने दूसरे माइक पर भाषण शुरू किया। इस दौरान उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा- मेरा मंच बदल सकता है, लेकिन इरादे नहीं। ममता जी आप सुन लीजिए बंगाल की संस्कृति की रक्षा के लिए यहां कमल खिलेगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपनों का सोनार बांग्ला बनेगा।

केंद्र सरकार की योजनाओं को बताया अपना- जे पी नड्डा
नड्डा ने कहा कि यह सरकार नकल में माहिर है। ममता सरकार ने केन्द्र की योजनाओं को अपना बताया है। स्वच्छ भारत अभियान को सोनार बांग्ला बनाया गया। पीएम आवास योजना को बांग्लार बाड़ी बनाया है। इसी तरह ग्रामीण सड़क योजना को भी सरकार ने अपना बताया है।

बंगाल के साथ अन्याय हो रहा है: नड्डा
जितने भी विकास के काम हुए हैं उसमें ममता बनर्जी ने रोड़ा अटकाया है। उन्होंने कहा हैं कि बंगाल के साथ अन्याय हो रहा है। सच्चाई यह है कि बंगाल के साथ न्याय मोदी जी ने किया है। अगर अन्याय किया है तो ममता बनर्जी ने किया है। उन्होंने लोगों को गुमराह किया।

भ्रष्टाचारियों को बचाना चाहती हैं ममता: नड्डा
बंगाल में अम्फान तूफान आया। प्रधानमंत्री जी ने 2,775 करोड़ रुपये दिए। ये पैसे TMC कार्यकर्ताओं के घरों और खातों में चले गए। हाई कोर्ट ने निर्देश दिए कि इसकी CAG से जांच की जाए तो ममता जी सुप्रीम कोर्ट चली गई। ममता जी आप भ्रष्टाचारियों को बचाना चाहती हैं।

मां, माटी और मानुष के नारे का किया अपमान
इसके अलावा जे पी नड्डा ने कोरोना काल में केंद्र दूारा भेजे गए राशन को लेकर कहा कि वह राशन भी तृणमूल (TMC) कार्यकर्ताओं के घर में गया हैं। तृणमूल 10 वर्ष पहले मां, माटी और मानुष के नारे के साथ बंगाल में आयी थी, लेकिन न तो मां की इज्जत की गयी और ना ही माटी से प्यार और न ही मानुष की चिंता की गयी है। उन्होंने कहा कि बंगाल में तानाशाही, तुष्टिकरण, तोलाबाजी और कटमनी का बोलबाला है। इसके बाद उन्होनें जनता पर भरोसा जताते हुए कहा कि,मई के बाद जनता ही तृणमूल सरकार को हटा देगी।

9 से 13 फरवरी तक बीरभूम जिले में दिग्गज नेताओं का दौरा
बंगाल के बीरभूम जिले में 9 से 13 फरवरी तक भाजपा के दिग्गज नेताओं का दौरा है। 9 फरवरी को नड्‌डा के बाद 10 फरवरी को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मल्लारपुर और बटाला में रथयात्रा में शामिल होंगे। 12 फरवरी को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी दुबराजपुर में परिवर्तन रथ यात्रा में शामिल होंगी। UP के CM योगी आदित्यनाथ 13 फरवरी को किरनहर में रथ यात्रा में शामिल होंगे।

लोकसभा में बीरभूम में भाजपा का वोट बढ़ा इसलिए यहां फोकस
बीरभूम जिले में सात विधानसभा सीटें हैं। यहां शताब्दी रॉय TMC से सांसद हैं। यहां भाजपा के दूध कुमार मंडल पिछले लोकसभा चुनाव में दूसरे नंबर पर रहे थे। TMC को जहां 45.13% वोट मिले वहीं, भाजपा को 38.99% वोट मिले थे। भाजपा का वोट यहां 20.52 प्रतिशत बढ़ा था। पार्टी विधानसभा चुनाव में वोट प्रतिशत को बरकरार रखना चाहेगी। इसलिए भाजपा को उम्मीद है कि विधानसभा चुनाव में यहां से सीटें बढ़ा सकती है और रथयात्रा में अपने बड़े नेताओं को भेज रही है।

कमेंट करें
pd5Mu