पूर्व मुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वम: तमिलनाडु के मुख्यमंत्री से ओपीएस की अपील, पटाखा इकाइयों में विस्फोट से बचने के उपाय करें

February 27th, 2022

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। अन्नाद्रमुक के मुख्य समन्वयक और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वम ने मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन राज्य में पटाखा इकाइयों में विस्फोट रोकने के लिए कदम उठाएंगे। पूर्व मुख्यमंत्री ने एक बयान में कहा कि जनवरी 2022 से अब तक पटाखा इकाई में हुए विस्फोटों में 12 लोग मारे गए हैं। उन्होंने कहा कि पटाखा उद्योग में काम करने वालों ने सूचित किया है कि पटाखा इकाइयों में विस्फोटों और मौतों का कारण सुरक्षा मानदंडों का पालन नहीं करना है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला कलेक्टर और औद्योगिक सुरक्षा एवं स्वास्थ्य निदेशालय को निर्देशित किया जाए कि वे निगरानी करें कि आतिशबाजी इकाइयां सुरक्षा मानकों का पालन कर रही हैं या नहीं।

उन्होंने इन पटाखा इकाइयों के प्रबंधन से सरकार द्वारा निर्धारित सुरक्षा मानदंडों का सख्ती से पालन करने का भी आह्वान किया। अन्नाद्रमुक नेता ने कहा कि सरकार को समय-समय पर राज्यभर में पटाखा इकाइयों की निगरानी के लिए कदम उठाने चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सभी संबंधित विभाग इन इकाइयों में उचित निरीक्षण कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि शिवकाशी और विरुधुनगर जिले देश में सबसे अधिक पटाखों का उत्पादन कर रहे हैं और वहां उचित सुरक्षा उपायों की जरूरत है। उन्होंने राज्य सरकार से उचित निरीक्षण करने और राज्य सरकार के मानदंडों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आह्वान किया। उन्होंने मुख्यमंत्री से पटाखा विस्फोटों के पीड़ितों को दी जाने वाली सहायता राशि में वृद्धि करने का भी आह्वान किया। मुख्यमंत्री ने हाल ही में मारे गए 4 लोगों के परिवारों को 3 लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की थी।

(आईएएनएस)