comScore

इंदौर: भाजपा नेता उस्मान पटेल ने पद से दिया इस्तीफा, बोले- पार्टी कर रही सांप्रदायिक राजनीति


डिजिटल डेस्क, इंदौर। भारतीय जनता पार्टी के नेता उस्मान पटेल ने अपने सभी पदों से शनिवार को इस्तीफा दे दिया। वह भाजपा की ओर से निगम के सदस्य थे। उस्मान ने भाजपा पर सांप्रदायिक राजनीति करने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि 'भाजपा वास्तविक मुद्दों से भटक गई है और सिर्फ सांप्रदायिक राजनीति कर रही है।' CAA और NRC पर निशाना साधते हुए उन्होंने आगे कहा कि 'देश में विकास दर गिर रही है और महंगाई बढ़ रही है, लेकिन पार्टी ऐसे कानून ला रही है, जिससे सभी धर्मों के लोगों के बीच दरार आ रही है।'

वाजपेयी से थे प्रेरित
इंदौर में खजराना के वॉर्ड- 38 के उस्मान पटेल, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से बेहद प्रभावित थे और उन्हीं से प्रेरित होकर वह भाजपा में शामिल हुए थे। वह CAA और NRC को लेकर पार्टी से खफा थे। उस्मान ने इन कानूनों को मुस्लिम विरोधी भी बताया और 40 साल भाजपा से जुड़े रहने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उनके साथ उनके समर्थकों ने भी पार्टी छोड़ दी है। बता दें कि वह मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र खजराना से दो बार पार्षद चुने गए।

क्या कहा वीडियो में
पार्टी से अपने सभी पद त्यागने के साथ उस्मान ने एक वीडियो जारी कर बताया कि 'मैं अटलजी से प्रेरित होकर पार्टी में शामिल हुआ था, लेकिन अब मैं पार्टी से दुखी हूं, क्योंकि इस वक्त पार्टी की विचारधारा देश को तोड़ने का काम कर रही है, इसलिए मैं इस्तीफा दे रहा हूं। पार्टी अपने सिद्धांतों से भटक रही है और नफरत की राजनीति कर रही है।' उन्होंने 'CAA और NRC को संविधान और मुस्लिम विरोधी बताते हुए कहा कि मेरे कौम के जो भाई-बहन, मांएं और बुजुर्ग सड़कों पर बैठें हुए हैं, मैं उनके साथ हूं और हमेशा रहूंगा।'

कमेंट करें
6DkNc