दैनिक भास्कर हिंदी: क्रिकेट के भगवान ने आज के ही दिन अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को कहा था अलविदा

November 16th, 2019

हाईलाइट

  • तेंदुलकर ने वानखेड़े स्टेडियम से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा था
  • 16 नवंबर, 2013 का दिन क्रिकेट प्रशंसकों के लिए बेहद भावुक था
  • सचिन तेंदुलकर का आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच 200वां टेस्ट मैच था

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। क्रिकेट इतिहास में 16 नवंबर, 2013 का दिन दुनिया भर के क्रिकेट प्रशंसकों के लिए बेहद भावुक और खास दिन है। इस दिन क्रिकट के भगवान कहे जाने वाले भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर आज ही दिन अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा था। तेंदुलकर ने अपने घरेलू मैदान वानखेड़े स्टेडियम से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा था।

सचिन का आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच उनका 200वां टेस्ट मैच, जोकि उन्होंने अपने घरेलू मैदान वानखेड़े स्टेडियम में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था। वेस्टइंडीज ने उस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 182 रन बनाए थे जबकि मेबजान भारत ने 495 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था।

सचिन के करियर का अंत
सचिन ने अपने अंतिम अंतर्राष्ट्रीय मैच के अंतिम पारी में 74 रन बनाए। वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज शेनन गेब्रियल ने जैसे ही भारतीय बल्लेबाज मोहम्मद शमी को आउट किया वैसे ही सचिन के करियर का अंत हो गया। इसके बाद सचिन..सचिन की गूंज के बीच फैंस ने भारतीय क्रिकेट के सबसे बड़े नाम को आखिरी बार पवेलियन लौटते हुए देखा।

24 साल के क्रिकेट से ली थी विदा
15 नवंबर, 1989 को पाकिस्तान में अपने करियर की शुरूआत करने वाले सचिन ने इसी तारीख के एक दिन बाद अपने 24 साल के क्रिकेट को अलविदा कह दिया। मैच के बाद सचिन ने अपना भावुक विदाई सम्बोधन किया था। इसमें उन्होंने अपने फैन्स, दोस्तों, साथियों, परिजनों और गुरुओं को धन्यवाद कहा। सचिन के साथ-साथ उनका पूरा परिवार मैदान पर मौजूद था और सभी भावुक हो गए थे। 

96 अर्धशतक और 49 शतक 
सचिन ने 200 टेस्ट मैचों की 329 पारियों में 5.78 के औसत से 15291 रन बनाए। इसमें उन्होंने 68 अर्धशतक और 51 शतक लगाए। उन्होंने टेस्ट से पहले वनडे से संन्यास ले लिया था। सचिन के नाम 463 वनडे मैचों में 44.38 के औसत से 18426 रन शामिल हैं। इसमें उनके नाम 96 अर्धशतक और 49 शतक दर्ज हैं।