दैनिक भास्कर हिंदी: #Birthday Special: टीम इंडिया का पहला कैप्टन, जो 69 की उम्र तक खेलता रहा 'क्रिकेट'

October 31st, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। इंडियन क्रिकेट टीम आज टेस्ट और वनडे में नंबर-1 टीम है, लेकिन एक समय था, जब इंडियन क्रिकेट का नाम ही नहीं था। उसे बहुत कमजोर टीम माना जाता था और क्रिकेट में उस समय ऐसे खिलाड़ी नहीं आते थे, जैसे आज आते हैं। ऐसे जमाने में कई ऐसे खिलाड़ी आए, जिन्होंने इंडियन क्रिकेट को दुनिया में फेमस किया। इन्हीं में से एक हैं, सीके नायडू। नायडू इंडियन टेस्ट क्रिकेट टीम के पहले कैप्टन थे और जिस उम्र में लोग रिटायरमेंट ले लेते हैं, उस उम्र में इन्होंने क्रिकेट खेलना शुरू किया था। नायडू का जन्म 31 अक्टूबर 1895 को महाराष्ट्र के नागपुर में हुआ था और उनका पूरा नाम कोट्टारी कनाकैया नायडू था। आज उनका जन्मदिन है और इस खास मौके पर हम आपको उनसे जुड़ी कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं, जिन्हें आप शायद ही जानते हों। 

 

 

 

1. 37 की उम्र में खेला था पहला इंटरेशनल मैच

 

सीके नायडू ने क्रिकेट में डेब्यू उस उम्र में किया, जिस उम्र में आज के क्रिकेटर रिटायरमेंट ले लेते हैं। सीके नायडू ने 37 की उम्र में अपना पहला टेस्ट मैच 1932 में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में खेला था। ये मैच इंडिया का भी पहला मैच था और इस मैच में सीके नायडू टीम के कैप्टन थे। इस मैच में इंडिया टीम हार तो गई, लेकिन नायडू ने अपनी शानदार पारी से सबको चौंका दिया था। मैच में फील्डिंग करते समय नायडू को हाथों में चोटें भी आ गई थी और उसके बाद भी नायडू ने अपनी पारी से सबको चौंका दिया था। इस मैच में नायडू ने 40 रनों की पारी खेली थी। इसके साथ ही डगलस जैरडाइन और ईडी पेंटर जैसे खिलाड़ियों के विकेट भी लिए थे। 

 

Image result for ck nayudu with team

 

2. ऐसे मिला था कैप्टन बनने का मौका

 

1932 में इंडियन क्रिकेट टीम जब इंग्लैंड टूर पर जा रही थी, उस वक्त टीम की कमान पोरबंदर के महाराज के हाथ में थी, लेकिन लास्ट मोमेंट में महाराज की तबियत बिगड़ गई और वो नहीं जा पाए। इसके बाद सीके नायडू को टीम की कप्तानी करने का मौका मिला। 

 

3. जब MCC के खिलाफ मारे 153 रन

 

1916 में नायडू ने अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू किया और अपने स्कूल हिसॉप कॉलेजिएट हाई स्कूल की टीम के कैप्टन बने। इसके बाद से नायडू ने बॉम्बे जिमखाना टीम के लिए कई डॉमेस्टिक मैच खेले। 1926 में इंग्लैंड की तरफ से MCC की टीम इंडिया टूर पर आई। इस मैच में नायडू ने जिमखाना की तरफ से खेलते हुए 153 रनों की शानदार पारी खेली, जिसमें 11 सिक्स भी शामिल हैं। 

 

4. 69 साल की उम्र तक खेलते रहे क्रिकेट

 

37 साल की उम्र में क्रिकेट की शुरुआत करने वाले सीके नायडू 69 की उम्र तक क्रिकेट खेलते रहे। सीके नायडू 63 की उम्र तक डॉमेस्टिक क्रिकेट खेला और 60 की उम्र तक उन्होंने रणजी मैच खेले। उन्होंने अपना आखिरी मैच 69 की उम्र में खेला था, जो एक चैरिटी मैच था। सीके नायडू ने इंटरनेशनल लेवल पर 7 टेस्ट मैच खेले, जिसमें 25.0 के एवरेज से उन्होंने 350 रन बनाए। इसके साथ ही 42.89 के एवरेज से उन्होंने     9 विकेट भी हासिल किए। वहीं फर्स्ट क्लास लेवल पर नायडू ने 207 मैच खेले, जिसमें 11,000 से ज्यादा रन बनाए और 411 विकेट लिए। करीब 47 सालों तक क्रिकेट खेलने वाले सीके नायडू ने 14 नवंबर 1967 को इंदौर में अपनी आखिरी सांस ली।