comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

महामुकाबले में भारत की दमदार जीत, 8 विकेट से पाक को चटाई धूल

September 20th, 2018 11:47 IST

हाईलाइट

  • भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए एशिया कप के हाईवोल्टेज मुकाबले में भारत ने पाकिस्तान को 8 विकेट से हरा दिया है।
  • पाकिस्तान ने भारतीय टीम को जीत के लिए 163 रनों का मामूली लक्ष्य दिया था, जिसे भारत ने 29 ओवर में ही हासिल कर लिया।
  • भारत की ओर से कप्तान रोहित शर्मा ने सबसे ज्यादा 52 रनों की पारी खेली।

डिजिटल डेस्क, दुबई। भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए एशिया कप के हाईवोल्टेज मुकाबले में भारत ने पाकिस्तान को 8 विकेट से हरा दिया है। पाकिस्तान ने भारतीय टीम को जीत के लिए 163 रनों का मामूली लक्ष्य दिया था, जिसे भारत ने 29 ओवर में ही हासिल कर लिया। भारत की ओर से कप्तान रोहित शर्मा ने सबसे ज्यादा 52 रनों की पारी खेली। वहीं शिखर धवन ने 46 रन बनाए। दिनेश कार्तिक (31) और अंबाती रायडू (31) रन बनाकर नाबाद रहे। दमदार गेंदबाजी के लिए भूवनेश्वर कुमार को मैन ऑफ द मैच दिया गया।इससे पहले भारतीय बॉलरों ने दमदार गेंदबाजी करते हुए किसी भी पाकिस्तानी बल्लेबाज को ज्यादा देर नहीं टिकने दिया और पूरी टीम को 43.1 ओवर में महज 162 रन पर समेट दिया। भारत की ओर से भुवनेश्वर कुमार और केदार जाधव ने 3-3 विकेट चटकाए। वहीं जसप्रीत बुमराह को 2 और कुलदीप यादव को 1 विकेट मिला। पाकिस्तान की ओर से केवल शोएब मलिक (43) और बाबर आजम (47) ने बड़ी पारियां खेलीं। 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शिखर धवन ने सधी हुई और मजबूत शुरुआत दी। भारत को पहला झटका 14वें ओवर में 86 रन के स्कोर पर लगा जब रोहित शर्मा को शादाब खान ने अपनी पहली ही गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया। रोहित शर्मा ने 39 गेंद में 6 चौकों और 3 छक्कों की मदद से शानदार 52 रन बनाए। इसके बाद शिखर धवन भी 46 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए। शिखर धवन ने अपनी पारी में 6 चौके और 1 छक्का लगाया। उन्हें फहीफ अशरफ ने बाबर आजम के हाथों कैच कराया। इसके बाद दिनेश कार्तिक और अंबाती रायडू ने मोर्चा संभाला और भारत को जीत दिलाकर ही मैदान से वापस लौटे। दिनेश कार्तिक ने अपनी 31 रन की पारी में 37 गेंदों का सामना किया जिसमें उन्होंने 2 चौके और एक छक्का लगाया। वहीं अंबाती रायडू ने भी 31 रनों की पारी खेली। उन्होंने 46 गेंदों का सामना किया और 3 चौके लगाए।

इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पाकिस्तानी टीम की शुरुआत बेहद खराब रही और उसके पहले दो विकेट 3 रन के स्कोर पर ही गिर गए। दूसरे ओवर की पहली गेंद पर पाकिस्तान को पहला झटका लगा। ओपनर इमाम उल हक (2) को भूवनेश्वर कुमार ने धोनी के हाथों विकेट के पीछे कैच कराकर चलता कर दिया। भूवनेश्वर कुमार ने अपने अगले ही ओवर में फखर जमान (0) को भी पैवेलियन लौटा दिया। यजुवेंद्र चहल ने फखर जमान का कैच पकड़ा। इसके बाद बाबर आजम और शोएब मलिक ने पारी को संभाला। टीम का स्कोर जब 21.2 ओवर में 85 रन था तो कुलदीप यादव ने बाबर आजम (47) को क्लीन बोल्ड कर इस साझेदारी को तोड़ा। बाबर के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने क्रीज पर आए कप्तान सरफराज अहमद भी कुछ खास कमाल नहीं कर पाए और 6 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए। सरफराज केदार जाधव का शिकार बने उनका सब फील्डर मनीष पांडे ने बाउंड्री लाइन पर शानदार कैच लपका। इसके बाद शोएब मलिक (43) को अंबाती रायडू ने डायरेक्ट थ्रो मारकर रन आउट कर दिया।

जिस वक्त शोएब मलिक आउट हुए उस वक्त टीम का स्कोर 100 रन था। 110 रन के स्कोर पर पाक को 6वां झटका लगा जब आसिफ अली (9) को केदार जाधव ने एमएस धोनी के हाथों विकेट के पीछे कैच आउट करावा दिया। इसके बाद शादाब खान भी 8 रन बनाकर आउट हो गए। केदार जाधव की बॉल पर एमएस धोनी ने उन्हें स्टंप कर दिया। 158 रन के स्कोर पर पाक को फहीम अशरफ (21) के रूप में 8वां झटका लगा। उन्हें बुमराह ने धवन के हाथों कैच कराया। पुछल्ले बल्लेबाज हसन अली (1) और उसमान खान (0) रन ही बना सके। हसन को जहां भूवनेश्वर ने कार्तिक के हाथों कैच कराया तो वहीं उसमान को बुमराह ने क्लीन बोल्ड कर दिया। मोहम्मद आमिर 18 रन पर नाबाद रहे।   

हांगकांग के खिलाफ मुकाबले में लचर प्रदर्शन टीम इंडिया दो बदलावों के साथ उतरी थी। खलील अहमद की जगह बुमराह और शार्दुल ठाकुर की जगह हार्दिक पंड्या टीम में शामिल किया गया था। वहीं पाकिस्तान की टीम बिना किसी बदलाव के साथ मैदान में उतरी।

भारत की प्लेइंग 11
रोहित शर्मा (C), शिखर धवन, अंबाती रायडू, दिनेश कार्तिक, एमएस धोनी (WK), हार्दिक पंड्या, केदार जाधव, भूवनेश्वर कु्मार, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, यजुवेंद्र चहल

पाकिस्तान की प्लेइंग 11
फखर जमान, इमाम-उल-हक, बाबर आजम, शोएब मलिक, सरफराज अहमद (W/C), आसिफ अली, शादाब खान, फहीम अशरफ, मोहम्मद आमिर, हसन अली, उसमान खान   

कमेंट करें
sFD1I
कमेंट पढ़े
Ashok Kumar Mahto September 19th, 2018 22:29 IST

Best of luck all the cricket players jit ke aana

surendra September 19th, 2018 21:31 IST

india is very good boiling &fielding belient

NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।