क्रिकेट : स्टोक्स का 31 साल की उम्र में वनडे से संन्यास लेना दुखद : इयोन मोर्गन

July 20th, 2022

हाईलाइट

  • स्टोक्स अपने योगदान को मैदान पर और चेंजिंग रूम में याद करेंगे

डिजिटल डेस्क, डरहम। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान इयोन मोर्गन ने टेस्ट कप्तान बेन स्टोक्स को एक अच्छा लीडर बताया और इस बात पर अफसोस जताया कि ऑलराउंडर 31 साल की उम्र में वनडे क्रिकेट से सन्ंयास ले रहे हैं। डरहम में अपने घरेलू मैदान पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इंग्लैंड के पहले एकदिवसीय मैच की पूर्व संध्या पर स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की।

स्टोक्स अपने योगदान को मैदान पर और चेंजिंग रूम में याद करेंगे। वह एक अच्छे खिलाड़ी हैं, जो लोगों का भी ख्याल रखते थे। साथ ही विश्वास दिलाते थे कि कुछ भी असंभव नहीं है। 2019 विश्व कप जीतने के लिए इंग्लैंड की कप्तानी करने वाले मॉर्गन ने कहा, इतने लंबे समय तक उनके साथ मैदान में रहना एक बहुत बड़ी खुशी थी और 31 साल की उम्र में इस फॉर्म से संन्यास लेना अविश्वसनीय रूप से दुखद है।

105 एकदिवसीय मैचों में स्टोक्स ने 2,924 रन बनाए, जिसमें तीन शतक शामिल हैं और साथ ही 74 विकेट भी लिए हैं। उन्हें लॉर्डस में न्यूजीलैंड के खिलाफ 2019 आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप फाइनल में उनके प्लेयर-ऑफ-द-मैच प्रदर्शन के लिए काफी हद तक याद किया जाएगा, जहां उन्होंने मैच को सुपर ओवर में ले जाने के लिए नाबाद 84 रनों की पारी खेली।

स्टोक्स की टीम के साथी तेज गेंदबाज मार्क वुड ने एकदिवसीय क्रिकेट में उनके साथ खेलने का मौका नहीं मिलने पर दुख व्यक्त किया। इंग्लैंड टीम के साथियों के अलावा, स्टोक्स और वुड घरेलू टीम डरहम के सहयोगी हैं। उन्होंने 2019 में विश्व कप जीता और इसे भूलना मुश्किल है। उन्होंने टीम के लिए बहुत कुछ किया।

 

 (आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.