comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

लोकेश राहुल 3 जिम्मेदारियों के लिए हैं तैयार

November 26th, 2020 09:40 IST
लोकेश राहुल 3 जिम्मेदारियों के लिए हैं तैयार

हाईलाइट

  • लोकेश राहुल 3 जिम्मेदारियों के लिए हैं तैयार

डिजिटल डेस्क, सिडनी। लोकेश राहुल ऑस्ट्रेलिया दौरे पर तीन जिम्मेदारियों- मुख्य बल्लेबाज, विकेटकीपर और उप-कप्तान, को निभाने को तैयार हैं। राहुल ने बुधवार को कहा कि हाल ही में खत्म हुए आईपीएल ने उन्हें इसके लिए तैयार किया है। राहुल ने साथ ही कहा कि वह नंबर-5 पर बल्लेबाजी करने के लिए तैयार हैं। राहुल ने मीडिया कॉन्फ्रेंस में कहा, पिछली बार जब मैं भारत के लिए खेला था, तब मैंने नंबर-5 पर बल्लेबाजी की थी और इसका लुत्फ लिया था। टीम जो चाहती है मैं वो करने को तैयार हूं।

राहुल ने न्यूजीलैंड के खिलाफ कोविड-19 से पहले फरवरी में खेली गई तीन मैचों की वनडे सीरीज में नाबाद 88 और 112 रनों की पारियां खेली थीं। राहुल ने साथ ही कहा कि उनके विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी लेने से टीम के पास एक अतिरिक्त बल्लेबाज और गेंदबाज को खेलाने का विकल्प मिलता है। उन्होंने कहा, आईपीएल में खेलने से मुझे थोड़ी तैयारी करने का मौका मिला है। मुझे वहां भी यह जिम्मेदारियां निभानी पड़ी थीं। यह चुनौतीपूर्ण था, यह नया था। मुझे लगता है कि मैं इस रोल का आदि हो गया हूं। मैंने इसका लुत्फ लेना शुरू कर दिया है। इसलिए मुझे लगता है कि मैं यहां भी इसका लुत्फ ले सकूंगा।

कर्नाटक के रहने वाले इस बल्लेबाज ने 2016 में वनडे में पदार्पण किया था और तब से सिर्फ 32 वनडे खेले हैं। वहीं 2016 में ही राहुल ने टी-20 में पदार्पण किया था और वह अभी तक 42 टी-20 मैच खेल चुके हैं। राहुल को लगता है कि उन्हें किसी एक रोल में ढलने का मौका नहीं मिला। लेकिन महेंद्र सिंह धोनी के 2019 विश्व कप के बाद न खेलने से राहुल को मौके मिलने शुरू हो गए। दिसंबर-2019 से फरवरी-2020 तक उन्होंने नौ वनडे मैच खेले।

उन्होंने कहा, मैंने लंबे समय से वनडे क्रिकेट नहीं खेली थी, हालांकि मैं भारतीय टीम का हिस्सा था, लेकिन मुझे इस तरह का लंबा मौका नहीं मिला था। यह अच्छी बात है कि मैं टीम में योगदान दे रहा हूं और अपनी जिम्मेदारी निभा रहा हूं। मैं इस बात से खुश हूं कि मैं मैदान पर जाकर लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहा हूं। राहुल ने कहा कि वह एक बार में एक ही काम पर ध्यान देंगे।

उन्होंने कहा, मैंने आईपीएल में खेलकर मौजूदा पल में,वर्तमान में रहना सीखा है। बल्लेबाजी करते हुए स्थिति को परखना, और यह देखना कि मैं टीम को मैच कैसे जिता सकता हूं। जब विकेटकीपिंग करता हूं तो इन आखिरी के तीन-चार सेकेंड में यह देखना कि गेंद कैसे आ रही है। यह जरूरी है कि मैं तब एक विकेटकीपर के तौर पर सोचूं न कि एक लीडर के तौर पर। मैंने आईपीएल में यही सीखा है। यह काफी अहम है और निजी तौर पर आगे जाने के लिए महत्वपूर्ण भी।

भारत को 2021 और 2022 में होने वाल दो टी-20 विश्व कप और 2023 में वनडे विश्व कप की तैयारी करनी है और ऐसे में राहुल टीम के लिए विकेटकीपर-बल्लेबाज के विकल्प हो सकते हैं। इस पर राहुल ने कहा कि उन्हें इस मामले में कुछ नहीं बताया गया है, लेकिन वह किसी भी तरह की चुनौती लेने को तैयार हैं।

उन्होंने कहा, मुझे कुछ भी बताया नहीं गया है और मैं इतनी दूर के बारे में नहीं सोच रहा हूं। जाहिर सी बात है कि विश्व कप काफी अहम है। यह हर टीम, हर देश का लक्ष्य होते हैं। जहां तक मेरी बात है तो, हम अभी भी एक बार में एक मैच के बारे में सोच रहे हैं। अगर मैं बल्ले और ग्लव्स से लगातार अच्छा करता रहा तो यह हमें अतिरिक्त गेंदबाज या बल्लेबाज खेलाने का विकल्प मुहैया कराएगा। इससे टीम संयोजन में मदद मिलेगी। निजी तौर पर मैं यह करना पसंद करूंगा। अगर मौका मिलता है तो मैं तीनों विश्व कप में कीपिंग करना पसंद करूंगा। मैं यह अपने देश के लिए करना पसंद करूंगा। वनडे टीम में संजू सैमसन एक और विकेटकीपर के विकल्प हैं जबकि टी-20 में राहुल अकेले हैं।

कमेंट करें
NUL2j