दैनिक भास्कर हिंदी: Poland open 2018: मैरीकॉम ने चार घंटे में कम किया दो किलो वजन, फिर जीता गोल्ड

January 4th, 2019

हाईलाइट

  • मैरीकॉम को मुकाबले से पहले ही टूर्नामेंट से किया जा रहा था बाहर
  • मैरी कॉम ने 48 किलोग्राम कैटेगरी में जीता गोल्ड

डिजिटल डेस्क, पौलेंड। भारत की स्टार बॉक्सर मैरीकॉम ने पौलेंड में हुए सिलेसियान ओपन में देश के लिए गोल्ड मेडल जीता। मैरीकॉम को अपने मुकाबले से पहले ही टूर्नामेंट से बाहर किया जा रहा था। उसकी वजह थी की जिस कैटेगरी में वे हिस्सा ले रहीं थी उसके लिए उनका वजन ज्यादा था। जिसके कारण उन्हें मुकाबले से बाहर किया जा रहा था। उनका वजन कैटेगरी के हिसाब से दो किलो ज्यादा निकल रहा था। टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के लिए उनके सामने चार घंटों में दो किलो वजन कम करने की एक बड़ी चुनौती थी। 

मुकाबले के लिए पोलैंड पहुंची मैरीकॉम को थकान के बावजूद इस बड़ी चुनौती को पूरा करना था। उन्होंने ने न केवल चार घंटों में दो किलो वजन कम किया। बल्कि मुकाबले में हिस्सा लेकर टूर्नामेंट में देश के लिए गोल्ड मेडल भी जीता। इसके लिए वे फ्लाइट में खाली पेट रहीं और पौलेंड पहुंचने के बाद उन्होंने लगातार स्कीपिंग की और गोल्ड मेडल अपने नाम किया।  

पांच बार की विश्व चैंपियन एम सी मैरी कॉम (48 किलोग्राम) ने शनिवार को पौलेंड बॉक्सिंग ओपन टूर्नामेंट में यह गोल्ड मेडल जीता। इस जीत के साथ ही उन्होंने साल का अपना तीसरा गोल्ड मेडल जीता। उन्होंने पोलैंड के ग्लीवाइस में महिलाओं के 13वें सिलेसियान ओपन मुक्केबाजी टूर्नामेंट में भारत को गोल्ड दिलाया है। वहीं ज्योति गुलिया (51 किग्रा) ने भी फाइनल मैच में जीत हासिल कर गोल्ड मेडल अपने नाम किया। 

इस टूर्नामेंट में भारत के जूनियर खिलाड़ियों ने 13 मेडल जीते जबकि पूर्व विश्व चैम्पियन एल सरिता देवी (60 किग्रा) ने ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया। मैरी कॉम का फाइनल गोल्ड मेडल मुकाबला कजाखिस्तान की एगेरिम कसानायेवा से था। मैरी कॉम ने इस साल दो अन्य गोल्ड मेडल दिल्ली में इंडिया ओपन और गोल्ड कोस्ट में राष्ट्रमंडल खेल में जीते थे।

वहीं पूर्व युवा चैम्पियन ज्योति ने पोलैंड की तातियाना प्लुटा को फाइनल मुकाबले में बाउट के दूसरे राउंड में हराकर जीत दर्ज की और गोल्ड जीता। इससे पहले भारतीय जूनियर मुक्केबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। टूर्नामेंट में 6 गोल्ड, 6 सिल्वर और एक ब्रॉन्ज के साथ कुल 13 पदक अपने नाम किए। मैरीकॉम दो महीने में 36 साल की हो जाएंगी लेकिन इस बॉक्सर ने यह साफ कर दिया है कि वह 2020 ओलिंपिक तक अपना खेल जारी रखेंगी और वहां भी देश के लिए गोल्ड मेडल जीत कर दिखाएंगी।