एशिया कप 2022: संकट से घिरा श्रीलंका नहीं करेगा एशिया कप की मेजबानी, भारत में हो सकता है आयोजन

July 22nd, 2022

हाईलाइट

  • एशिया कप में 6 टीमें हिस्सा लेंगी

डिजिटल डेस्क, दुबई। आर्थिक और राजनैतिक संकट की मार झेल रहे श्रीलंका में एशिया कप का आयोजन नहीं होगा। श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने एशियाई क्रिकेट परिषद को बताया कि देश के हालात खराब होने की वजह से वह इतने बड़े टूर्नामेंट का आयोजन करने की कंडीशन में इस समय नहीं है। एशियाई क्रिकेट परिषद के एक अधिकारी के अनुसार, श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों ने परिषद को बताया कि देश में चल रहे आर्थिक और राजनैतिक संकट की वजह से वह फिलहाल इतने बड़े टूर्नामेंट की मेजबानी करने में सक्षम नही है। बता दें कि एशिया कप का आयोजन श्रीलंका में 28 अगस्त से 11 सितंबर तक होना था। 

भारत में हो सकता है आयोजन

एशियाई क्रिकेट परिषद से जुड़े अधिकारी ने बताया कि अभी यह निर्णय नहीं लिया गया है कि श्रीलंका की जगह किस देश में एशिया कप का आयोजन कराया जाएगा। अधिकारी के मुताबिक,इसको लेकर भारत की दावेदारी मजबूत है। क्योंकि एशियाई क्रिकेट परिषद के अध्यक्ष जय शाह बीसीसीआई के सचिव भी हैं। जिस वजह से टूर्नामेंट को भारत में कराने में कोई परेशानी नहीं आएगी। वहीं दूसरी तरफ भारत के अलावा इसके एक ओर प्रबल दावेदार यूएई में टूर्नामेंट को आयोजित कराने के लिए वहां के बोर्ड के अधिकारियों से बात करके उनसे सहमति लेनी पड़ेगी, जिसमें वक्त ज्यादा लग सकता है। ऐसे में भारत में इसके आयोजन के चांसेज ज्यादा हैं। 

6 टीमें लेंगी हिस्सा

एशिया कप में 6 टीमें हिस्सा लेंगी। इसमें भारत समेत श्रीलंका, पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के साथ एक टीम वह होगी जो कॉलिफायर राउंड जीतकर आएगी। कॉलिफायर मैच हांगकांग, कुवैत, सिंगापुर और यूएई के बीच होंगे। 

भारत-पाकिस्तान में हो सकता है मुकाबला

भारत-पाकिस्तान के बीच मुकाबला हर क्रिकेट फैन देखना चाहता है। इसी साल ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होने वाले टी-20 विश्वकप से पहले ही इन दोनों चिरप्रतिद्वंदियों का सामना इस टूर्नामेंट में हो सकता है। मीडिया रिपो्र्टस के मुताबिक, यह दोनों ही टीमें 28 अगस्त को एक दूसरे के खिलाफ मैच खेल सकती हैं। बता दें आखिरी बार दोनों का आमना-सामना पिछले टी-20 वर्ल्डकप में मैच हुआ था जिसमें पाकिस्तान ने जीत हासिल की थी। 

गौरतलब है कि इस बार एशिया कप के मैच टी-20 फॉर्मेट में खेले जाएंगे। पहले यह टूर्नामेंट 50 ओवर के फॉर्मेट में खेला जाता था। 2016 में इसे पहली बार 20 ओवर के फॉर्मेट में खेला गया था। तब भारत  फाइनल में बांग्लादेश को हराकर 7वीं बार इस टूर्नामेंट का विजेता बना था। 

खबरें और भी हैं...