दैनिक भास्कर हिंदी: ऑस्ट्रेलिया को हराकर No.1 बनी टीम इंडिया, इन 5 खिलाड़ियों ने दिखाया दम

October 2nd, 2017

डिजिटल डेस्क, नागपुर। इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को आखिरी वनडे में हराकर 5 मैचों की इस सीरीज पर  4-1 से कब्जा कर लिया। दोनों टीमों के बीच ये आखिरी वनडे रविवार को नागपुर में खेला गया। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया टीम ने इंडिया के सामने 243 रनों का टारगेट रखा, जिसे टीम इंडिया ने 42.5 ओवरों में ही 3 विकेट खोकर हासिल कर लिया। इंडिया की तरफ से सबसे ज्यादा रन रोहित शर्मा (125) ने बनाए, वहीं ऑस्ट्रेलिया की तरफ से एडम जैम्पा ने 2 विकेट लिए। इसी के साथ टीम इंडिया एक बार फिर से ICC ODI रैंकिंग में नंबर-1 पर पहुंच गई है। इस पूरी सीरीज में टीम इंडिया की बैटिंग-बॉलिंग दोनों ही शानदार रही। किसी भी मैच में इंडियन बॉलर्स ने ऑस्ट्रेलिया को अपने ऊपर हावी नहीं होने दिया, तो वहीं इंडियन बैट्समैन ने भी ऑस्ट्रेलिया के टारगेट को आसानी से चेज़ कर लिया। सीरीज के चौथे वनडे में टीम में बदलाव करना इंडिया को भारी पड़ा और उसका खामियाजा उसे हार के साथ चुकाना पड़ा। आज हम आपको टीम इंडिया के उन 6 खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने अपने दम से ऑस्ट्रेलिया को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। 

1. रोहित शर्मा: 

टीम इंडिया के ओपनर रोहित शर्मा का बल्ला इस सीरीज में जमकर बोला। इस सीरीज में रोहित शर्मा ने 59.2 के एवरेज से सबसे ज्यादा 296 रन बनाए। यहां तक कि इस सीरीज में रोहित इकलौते बैट्समैन हैं, जिन्होंने अपनी सेंचुरी लगाई। इस सीरीज में रोहित एक सेंचुरी और दो हाफ सेंचुरी लगाई। सीरीज के आखिरी वनडे में रोहित ने ताबड़तोड़ 125 रनों की पारी खेली। इस वनडे में रोहित ने जैसे ही 92 रन बनाए, वैसे ही वनडे करियर में उनके 6 हजार रन भी पूरे हो गए। इसी के साथ रोहित वनडे करियर में 6 हजार या उससे ज्यादा रन बनाने वाले इंडिया के 9वें बैट्समैन बन गए। 

2. अजिंक्य रहाणे: 

सीरीज के पहले मैच में सिर्फ 5 रन पर आउट हो जाने के बाद अजिंक्य रहाणे ने अगले सभी मैचों में शानदार पारी खेली। रहाणे ने चारों मैचों में हाफ सेंचुरी लगाई। इसी के साथ रहाणे सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में टीम इंडिया के दूसरे खिलाड़ी रहे। इस सीरीज में रहाणे ने 48.80 के एवरेज से 244 रन बनाए, जिसमें 4 फिफ्टी शामिल है। इस सीरीज में रहाणे ने पहले वनडे में 5, दूसरे में 55, तीसरे में 70, चौथे में 53 और आखिरी वनडे में 61 रनों की पारी खेली। 

3. हार्दिक पांड्या: 

हार्दिक पांड्या को टीम इंडिया हमेशा से एक बेहतरीन ऑलराउंडर के रुप में देख रही थी, जिसे उन्होंने इस सीरीज में साबित भी कर दिया। इस सीरीज में पांड्या ने 222 रन बनाने के साथ-साथ 6 विकेट भी अपने नाम किए। इसके लिए उन्हें 'मैन ऑफ द सीरीज' भी चुना गया। इस सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले हार्दिक पांड्या तीसरे इंडियन हैं। इस सीरीज में पांड्या को तीसरे और चौथे वनडे में चौथे नंबर पर भी भेजा गया, जिसमें वो भरोसे पर खरे भी उतरे। पांड्या ने चौथे नंबर पर आकर तीसरे वनडे में जहां 78 रन बनाए, वहीं चौथे वनडे में उन्होंने 41 रनों की पारी खेली। आखिरी वनडे में हार्दिक पांड्या को बैटिंग का मौका नहीं मिला, जबकि बॉलिंग में भी उन्होंने सिर्फ 2 ओवर ही फेंके, जिसमें उन्होंने एरॉन फिंच को आउट किया। 

4. कुलदीप यादव: 

टीम इंडिया के चाइनामैन बॉलर कुलदीप यादव ने इस सीरीज के दूसरे वनडे में हैट्रिक भी ली। इस सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले पहले इंडियन बॉलर हैं। कुलदीप यादव ने इस सीरीज में 4 मैच खेले, जिसमें उन्होंने 30 के एवरेज से 7 विकेट लिए। इस सीरीज में उनकी बेस्ट परफॉर्मेंस दूसरे वनडे की रही, जिसमें उन्होंने 54 रन देकर 3 विकेट अपने नाम किए। इसी मैच में कुलदीप ने हैट्रिक भी ली, जिसके साथ ही वो इंटरनेशनल क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले तीसरे इंडियन बन गए। 

5. युजवेंद्र चहल: 

इस सीरीज में युजवेंद्र चहल टीम इंडिया की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दूसरे बॉलर हैं। उन्होंने इस सीरीज में 28.66 के एवरेज से 6 विकेट चटकाए। सीरीज के पहले मैच में चहल ने 30 रन देकर 3 विकेट चटकाए थे, जो उनकी बेस्ट परफॉर्मेंस भी रही। इस सीरीज में चहल ने ग्लेन मैक्सवेल को अपना शिकार बनाया। मैक्सवेल ने इस सीरीज में तीन मैच खेले और तीनों ही मैच में चहल ने उन्हें आउट किया। इस सीरीज में चहल ने भी 4 मैच खेले और आखिरी वनडे में उन्हें रेस्ट दिया गया।