दैनिक भास्कर हिंदी: Tokyo Olympics 2020: रैंकिग राउंड में 9वें स्थान पर रहीं दीपिका, दक्षिण कोरिया की एन सेन ने बनाया रैंकिग राउंड में ओलंपिक रिकॉर्ड

July 23rd, 2021

हाईलाइट

  • दीपिका ने 10 अंको के निशाने के साथ कुल 663 अंक अर्जित किये
  • सेन ने 36 बुल्ज आई के साथ रिकॉर्ड 680 अंक प्राप्त किये

डिजिटल डेस्क, टोक्यो। आज (23 जुलाई, शुक्रवार) से खेलों के महाकुंभ यानी कि ओलंपिक की शुरुआत हो गई है। हालांकि टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) 2020 का उद्धाटन समारोह भारतीय समयानुसार आज शाम 4.30 बजे होगी। जिसमें जापान के सम्राट नारुहितो भी शामिल होंगे। लेकिन इससे पहले तीरंदाजी का पुरूष, महिला एवं टाम इवेंट का रैंकिग राउंड खेला जाएगा। 

व्यक्तिगत महिला तीरंदाजी रैंकिग राउंड में भारत की दीपिका कुमारी ने 9वें स्थान पर समाप्त किया। उन्होंने 30 बुल्ज आई यानी की 10 अंको के निशाने के साथ कुल 663 अंक अर्जित किये। रैंकिग राउंड में कुल 64 खिलाड़ीयों ने हिस्सा लिया।

मिक्सड डबल इवेंट के रैंकिग राउंड मे भी दीपिका कुमारी और प्रवीण जाधव की जोड़ी ने 52 बुल्ज आई के साथ कुल 1319 अंको के साथ 9वें नं पर समाप्त किया है।

एन सेन ने बनाया ओलंपिक रिकार्ड
दक्षिण कोरिया की एन सेन ने रैंकिग राउंड में ओलंपिक रिकार्ड बनाकर पहले स्थान पर फिनिश किया। सेन 36 बुल्ज आई  के साथ रिकॉर्ड  680 अंक प्राप्त किये।

क्या होता है रैंकिग राउंड
तीरंदाजी प्रतियोगिता एक रैंकिंग दौर से शुरू होती है, जहां सभी 128 तीरंदाजों (64 पुरुष और इतनी ही महिलाएं) को 12 के समूह में 70 मीटर दूर लक्ष्य पर 72 तीर चलाने के लिए कहा जाता है। प्रत्येक तीरंदाज के पास प्रत्येक छोर पर छह तीर चलाने के लिए दो मिनट का समय होता है। 720 परफेक्ट स्कोर है।

रैंक के बाद - पहली से 64 वीं तक - उनके स्कोर के आधार पर, तीरंदाजों को जोड़ियों में प्रतिस्पर्धा करने के लिए बनाया जाता है। पहली रैंक वाला तीरंदाज 64वीं रैंक वाले तीरंदाज के खिलाफ जाता है, दूसरे को 63वें के खिलाफ खड़ा किया जाता है, और इसी तरह।