दैनिक भास्कर हिंदी: जब ब्रेट ली की बाउंसर ने द्रविड़ के कान से निकाल दिया था खून, देखें Video

July 20th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली आज अपना 41वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। ली का जन्म 8 नवंबर 1976 को न्यू साउथ वेल्स में हुआ था। ली की मां हेलन एक पियानो टीचर थी, इस वजह से उनका बचपन से म्यूजिक से काफी लगाव रहा है। ली ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत पाकिस्तान के खिलाफ 1999 से की थी। अपने पूरे करियर में ब्रेट ली ने कई रिकॉर्ड्स बनाए। पाकिस्तान के शोएब अख्तर के बाद सबसे तेज गेंदबाजों की लिस्ट में ब्रेट ली का नाम आता है। ब्रेट ली अक्सर अपने बाउंसर्स की वजह से चर्चा में रहते थे। दुनिया का बड़े से बड़ा बैट्समैन उनकी बाउंसर्स के सामने फेल हो जाता है। उनके बर्थडे के मौके पर आज हम आपको उनकी बाउंसर्स से जुड़ा एक ऐसा ही किस्सा बताने जा रहे हैं, जिसके बारे में आप शायद ही जानते हों। 


द्रविड़ के कान से निकला था खून

साल 2004 में ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में बॉर्डर-गावस्कर सीरीज का मैच खेला जा रहा था। इस टेस्ट मैच की पहली इनिंग में इंडिया टीम ने 705 रन बनाए थे। जबाव में ऑस्ट्रेलिया की टीम मात्र 474 रनों पर सिमट गई। टीम इंडिया दूसरी पारी में खेलने उतरी तो ब्रेट ली ने एक बाउंसर फेंकी, जो राहुल द्रविड़ के हेलमेट के ऊपर से जाते हुए सीधे कान पर लगी। इसके बाद द्रविड़ ने बिना देरी किए अपना हेलमेट उतारा। द्रविड़ के कान से खून निकल रहा था। ये सब देखकर उस समय टीम के कैप्टन सौरव गांगुली ने इनिंग डिक्लेयर कर दी। जब इंडिया ने इनिंग डिक्लेयर की, तब वो लीड के साथ 2 विकेट पर 211 रन बना चुकी थी और द्रविड़ 91 रन बनाकर खेल रहे थे। बाद में ये मैच ड्रॉ पर खत्म हुआ। अच्छी बात ये रही कि ब्रेट ली की इस बाउंसर से राहुल द्रविड़ को कोई बड़ी इंजरी नहीं हुई। 

 

ब्रेट ली का करियर

 

Image result for brett lee

 

ब्रेट ली अपने करियर में 76 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उन्होंने 310 विकेट हासिल किए हैं, वहीं 221 वनडे में ली 380 विकेट ले चुके हैं। इसके अलावा ली 25 टी-20 मैच भी खेल चुके हैं, जिसमें उन्होंने 28 विकेट लिए हैं। वहीं इंडिया के खिलाफ ली ने 12 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उन्होंने 53 विकेट लिए हैं, जिसमें 2 बार 5 विकेट भी शामिल हैं। जबकि टीम इंडिया के खिलाफ खेले गए 32 वनडे मैच में ली ने 55 विकेट लिए हैं, जिसमें उन्होंने 4 बार 5 विकेट हासिल किए हैं।