तलाशी अभियान: अरुणाचल सीमा पर 18 लापता, एक मजदूर का मिला शव

July 20th, 2022

डिजिटल डेस्क, ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश के कुरुंग कुमे जिले में भारत-चीन सीमा के पास एक श्रमिक की मौत हो गई, जबकि 18 अन्य लापता हो गए। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि लापता श्रमिकों का पता लगाने के लिए तलाशी अभियान जारी है। कुरुंग कुमे जिले के दामिन सर्कल में सड़क निर्माण कार्यों में शामिल एक ठेकेदार द्वारा लगाए गए श्रमिक सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) की सड़क परियोजनाओं में काम कर रहे थे।

घटना पिछले हफ्ते की है, लेकिन स्थानीय लोगों द्वारा एक मजदूर का शव बरामद होने के बाद मंगलवार को इसका पता चला। जिले के एक अधिकारी ने कहा कि 19 मजदूर पिछले हफ्ते सड़क निर्माण स्थल से लापता हो गए थे, जिनमें से ज्यादातर असम के थे और उनमें से एक का शव पास की कुमे नदी से बरामद किया गया है।

यह क्षेत्र पहाड़ी इलाकों और घने जंगलों से बेहद दुर्गम है। अधिकारी ने कहा कि व्यापक तलाशी अभियान जारी है और पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी उस जगह के लिए रवाना हो गए, जहां मंगलवार सुबह एक शव मिला। बीआरओ अरुणाचल प्रदेश में चीन सीमा पर कई परियोजनाओं का निर्माण कर रहा है। स्थानीय ग्रामीणों और पुलिस को आशंका है कि सभी मजदूर कुमेई नदी में डूब गए होंगे।

ग्रामीणों ने कथित तौर पर पुलिस को सूचित किया कि ठेकेदार द्वारा कुछ दिनों के लिए छुट्टी देने से इनकार करने के बाद श्रमिकों ने अपना कार्य स्थल छोड़ दिया और फिर यह त्रासदी हुई। मजदूरों ने असम के कोकराझार और धुबरी में अपने घरों को लौटने के लिए शॉर्टकट जंगल का रास्ता अपनाया था। एक मामला दर्ज किया गया है।

सोर्स: आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.