दैनिक भास्कर हिंदी: दमोह उपचुनाव: कांग्रेस के अजय टंडन ने भाजपा के उम्मीदवार को करीब 17 हजार वोटों से हाराया, लोधी ने हार का ठीकरा मलैया पर फोड़ा

May 3rd, 2021

डिजिटल डेस्क, दमोह। मध्य प्रदेश की दमोह विधानसभा सीट पर हुए अपचुनाव में कांग्रेस के अजय टंडन ने बीजेपी के उम्मीदवार राहुल सिंह लोधी को हरा दिया। 17 हजार 89 वोटों के बड़े मार्जिन से टंडन ने राहुल सिंह को हराया है। राहुल सिंह कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हुए थे। इसी वजह से यहां उपचुनाव कराए गए थे। दमोह में 17 अप्रैल को मतदान हुआ था। इस बार मतदान का प्रतिशत लगभग 60 रहा था, जो पिछले विधानसभा के मुकाबले लगभग 15 प्रतिशत कम था।

यहां मतगणना कुल 26 चक्र में हुई। कांग्रेस के उम्मीदवार अजय टंडन मतगणना के पहले ही चक्र से बढ़त बनाए हुए थे। हालांकि शुरुआत में ग्रामीण इलाकों की ईवीएम खुली तो बढ़त का अंतर ज्यादा नहीं नहीं था। हर चक्र में औसतन पांच सौ से हजार वोट की टंडन को बढ़त मिली। मगर शहरी इलाकों में कांग्रेस उम्मीदवार की बढ़त तेजी से बढ़ी। उसके बाद फिर ग्रामीण इलाकों की मतगणना में एक दो चक्र में राहुल लोधी ने टंडन पर बढ़त बनाई, मगर यह ज्यादा देर नहीं रही।

क्या कहा राहुल सिंह लोधी ने?
हार के बाद भाजपा प्रत्याशी राहुल सिंह ने पत्रकारों से कहा कि मलैया परिवार ही पूर्ण रूप से चुनाव हराने का जिम्मेदार है। सिद्धार्थ मलैया के पास पूरे शहर की जिम्मेदारी थी, हम पूरा शहर ही हार गए। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों पर कार्रवाई होना चाहिए जो बोलते हैं कि पार्टी हमारी मां है। उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा से कार्रवाई और निष्कासन की मांग की है। उन्होंने खुले रूप से आरोप लगाया कि मलैया परिवार की पूरी रणनीति सफल हुई और भाजपा की हार हुई।

क्या कहा कमलनाथ ने?
दमोह उपचुनाव के नतीजों को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने कहा कि यह थोपा हुआ चुनाव था। मतदाताओं ने साफ संदेश दे दिया है कि धनबल से चुनाव नहीं जीते जाते हैं। हमारा मुकाबला धनबल, प्रशासन, चुनाव आयोग से था। भाजपा ने कई मंत्रियों को लगाया था। हमारे लोगों को प्रलोभन दिया गया क्योंकि अब उनके पास इसके अलावा कुछ नहीं बचा है। पुलिस और प्रशासन वहां क्या कर रहा था, यह सबको पता है। उन्होंने कहा कि अब मतदाता समझने लगा है। उसने सचाई का साथ दिया है।