comScore

ब्राजील में एक महिला ने कोमा में दिया बच्चे को जन्म, जानें फिर आगे क्या हुआ

ब्राजील में एक महिला ने कोमा में दिया बच्चे को जन्म, जानें फिर आगे क्या हुआ

डिजिटल डेस्क। प्रेग्नेंसी को लेकर कितने ही चमत्कारों के बारे में आपने सुना होगा। एक ऐसा ही मामला ब्राजील से सामने आया है। यहां की एक महिला ने कोमा में होने के बावजूद बच्चे को जन्म दिया। लेकिन उसके बाद भी महिला को होश नहीं आया। गर्भावस्था में होने के बाद भी बच्चे को जन्म देनी वाली महिला का नाम है अमांडा द सिल्वा (28) है। अब आप सोच रहे होंगे कि, आखिर महिला को होश आता है या नहीं?

अमांडा को करीब 2 हफ्ते के बाद उस समय होश आया, जब उसने अपने नवजात बच्चे को छुआ। कोमा में रहते हुए ही अमांडा का सिजेरियन ऑपरेशन किया गया। बताया गया कि अमांडा को अक्सर ही मिर्गी के दौरे पड़ते हैं और उसका 37 हफ्ते का गर्भ था। इस दौरान महिला की अपने पति बहस भी हो गई, जिसके कारण अमांडा की तबीयत बिगड़ती चली गई। डॉक्टर ने आनन-फानन में अमांडा का सिजेरियन ऑपरेशन किया. जिस समय बच्चे का जन्म हुआ उसका वजन 2.1 किलो था. जिसकी वजह से बच्चे को काफी देखरेख में रखा गया। अमांडा के कोमा में जाने के बाद बच्चे को बचाना डॉक्टर्स की पहली कामयाबी थी। उसके बाद महिला का होश में आना भी जरूरी था।

इसके लिए हॉस्पिटल की नर्स का सुझाव किसी चमत्कार जैसा था। हॉस्पिटल की एक नर्स ने सुझाव दिया कि नवजात बच्चे को अमांडा की छाती पर रख दिया जाए, और जैसे ही इस सुझाव को अपनाया गया तो अमांडा की दिल की धड़कन एकदम तेज हो गई। इसके बाद अमांडा को होश आ गया, उसने अपने बच्चे को छुआ और रोने लगी। करीब 23 दिन बाद जाकर अमांडा की तबीयत में थोड़ा बहुत सुधार हुआ और वह अपने घर जा पाई।

कमेंट करें
DMCFV