comScore

एक ही परिवार की 52 पीढ़ियां संभालती आ रही हैं ये होटेल

September 20th, 2018 10:45 IST
एक ही परिवार की 52 पीढ़ियां संभालती आ रही हैं ये होटेल

डिजिटल डेस्क । फैमिली बिजनेस लगभग हर देश की एक परंपरा है। भारत में आपने कई रेस्त्रां, दुकानें, कंपनीज और फैक्ट्रीज के बारे में सुना होगा, जिन्हें पीढ़ी दर पीढ़ी संभाला जा रहा है। दादा, पापा, बेटा, चाचा, भाई और कई जगह महिलाएं भी मिलकर फैमिली बिजनेस को संभालती है। फैमिली बिजनेस का जब भी जिक्र होता है तो सबसे पहले जापान के निशियामा ओनसेन होटल का नाम आता है। आप सोच रहे होंगे के भारत और किसी अन्य देश को छोड़ कर जापान का ही नाम फैमिली बिजनेस में क्यों आगे है, तो जनाब जरा जान लें कि जापान में एक खानदान 2,4,6 या 10 पीढ़ियों से नहीं बल्कि पूरी 52 पीढ़ियों से अपना फैमिली बिजनेस (होटेल) संभाले हुए है। जापान के निशियामा में ओन्सेन होटेल को एक परिवार की 52 पीढ़ियां संभालती आ रहीं हैं। सबसे दिलचस्प बात ये है कि इस होटल को 705 AD में खोला गया था। यह होटल 1312 साल पुराना है और पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र है। इस फैमिली बिजनेस पर एक शॉर्ट डॉक्यूमेंट्री 'हूशी' भी बन चुकी है।

कमेंट करें
WSgxA
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।