दैनिक भास्कर हिंदी: अमेरिकी राष्ट्रपति के घर व्हाइट हाउस में रहती है आत्मा? जाने आप भी

December 19th, 2018

हाईलाइट

  • आलीशान व्हाइट हाउस में भी आज भी ऐसे कई राज दफन हैं जिसे जानकर आप भी खौंफ के साए में आ जाएंगे
  • अब्राहम लिंकन अमेरिका के 16वें राष्ट्रपति थे, लेकिन अप्रैल 1865 में व्हाइट हाउस के अंदर ही अब्राहम लिंकन की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी

डिजिटल डेस्क,अमेरिका। आमतौर पर सभी लोग जानते है कि व्हाइट हाउस दुनिया का सबसे ज्यादा ताकतवर देश कहे जाने वाले अमेरिका के राष्ट्रपति का निवास स्थान है। व्हाइट हाउस की सुरक्षा-निगरानी इतनी कड़ी होती है कि कोई परिंदा भी बिना इजाजत पर न मार सके। लेकिन इस ताकतवर और आलीशान व्हाइट हाउस में आज भी ऐसे कई राज दफन हैं जिसे जानकर आप भी खौंफ के साए में आ जाएंगे। चलिए जानते हैं कि क्या है वो रहस्य।

जैसा कि सभी जानते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति व्हाइट हाउस में रहते हैं। दरअसल अब्राहम लिंकन अमेरिका के 16वें राष्ट्रपति थे, लेकिन अप्रैल 1865 में व्हाइट हाउस के अंदर ही अब्राहम लिंकन की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। कहा जाता है कि इसके कुछ दिन बाद ही लोगों को अब्राहम लिंकन की आत्मा दिखाई देने लगी। सबसे पहले अमेरिका के 30वें राष्ट्रपति रहे केल्विन कुलिज की पत्नी ग्रेस कुलीज ने व्हाइट हाउस में अब्राहम लिंकन की आत्मा को महसूस किया था। उनके कहे अनुसार उन्हें आभास हुआ कि व्हाइट हाउस के ओवल दफ्तर की खिड़की के पास अब्राहम लिंकन खड़े हैं। इसके साथ ही उन्हें ये भी एहसास होता है कि लिंकन उनके आस-पास ही बैठे हैं। जिससे ग्रेस कुलीज काफी डर गई थीं।

इसके आलावा कहा जाता है कि नीदरलैंड की माहरानी व्हिलमिना ने भी व्हाइट हाउस में अब्राहम लिंकन की आत्मा को देखा था। अमेरिकी यात्रा के दौरान वो एक बार व्हाइट हाउस में रुकीं हुई थीं। जहां देर रात उन्हें लगा कि किसी ने उनका दरवाजा खटखटाया और जब उन्होंनें दरवाजा खोला तो देखा कि सामने अब्राहम लिंकन खड़े हैं। जिसे देख वो काफी डर गईं थी और डर के कारण उनके मुंह से आवाज भी नहीं निकल पा रही थी।

इतना ही नहीं, ब्रिटेन के एक पूर्व राष्ट्रपति ने भी व्हाइट हाउस में अब्राहम लिंकन की आत्मा को देखा था। वो एक बार अमेरिका आने पर व्हाइट हाउस में ठहरे थे, इस दौरान जब वो बाथरुम से नहाकर बाहर निकले तो देखते हैं कि कमरे में सिगड़ी जल रही है और वहीं उसके पास अब्राहम लिंकन बैठे हुए हैं। इस तरह की घटनाओं के बारे में जानकर आज भी लोगों की रुह कांप जाती है।