दैनिक भास्कर हिंदी: जब हाथी ने Mahindra scorpio को मुसीबत से निकाला

July 24th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। यदि आप ऑफ रोडिंग करते हैं तो ये संभव है कि कई बार आप बुरी तरह से फंसे होंगे। फिर सही सलामत वाहन को निकालने के लिए आपको खासी मशक्कत करनी पड़ी होगी। फंस जाने के बाद बचाया जाना भी ऑफ रोडिंग का एक हिस्सा ही होता है। हर हार्डकोर ऑफ रोडर को जरूर कभी न कभी बचाया गया होगा। इंटरनेट पर कई ऐसे रेक्स्यू वीडियो भी उपलब्ध हैं। पर जो वीडियो आज हम आपको दिखाने जा रहे हैं वो सबसे अलग है, जहां एक हाथी भारी भरकम महिंद्रा स्कॉर्पियो को खींच रहा है।

ये वीडियो झील के किनारे का है, जहां एक महिंद्रा स्कॉर्पियो कीचड में फंसी होती है। स्कॉर्पियो के पिछले पहिए मिट्टी में फंसे होते हैं। आसपास जब कोई गाड़ी टोचन करने के लिए नहीं होती तो एक हाथी को गाड़ी को बाहर निकालने के काम पर लगा दिया जाता है। हाथी भी रस्सी के सहारे आसानी से स्कॉर्पियो को बाहर निकाल लेता है।


हाथी अपनी सूंड से स्कॉर्पियो को खींचता है, इस दौरान जब हाथी खींचता है तब स्कॉर्पियो के पिछले पहियों को ग्रिप नहीं मिलती और पहिए उसी जगह पर घूमने लगते हैं। लेकिन हाथी ताकत लगाकर 2 व्हील ड्राइव इस स्कॉर्पियो को बाहर निकाल लेता है। भारतीय हाथी अपनी सूंड से 300 किलो तक का वजन उठा लेते हैं। 

 

 

ऑफ रोडिंग के वक्त ध्यान रखें


ऐसी गीली जगहों पर आपको हमेशा चौकन्ना रहना होता है। यदि आप की गाड़ी में फोर व्हील ड्राइव नहीं तब तो और भी ज्यादा सावधान रहना चाहिए। ऐसी जगहों पर मदद मिलना काफी मुश्किल होता है। ऑफ राइडिंग के लिए 4X2 ड्राइव लेआउट वाले वाहन ज्यादा काबिल नहीं होते।  इसलिए ऐसे वाहनों को ऐसी चुनौती भरी जगहों पर न ले जाएं। हर फोर व्हील ड्राइव गाड़ियों की एक क्षमता होती है। यदि आपको लगता है कि आप ऐसी जगह ऑफ रोडिंग कर रहे हैं, जहां मुश्किल वक्त में मदद मिलना कठिन है तो वहां जाने से  परहेज करें। और यदि जाते हैं तो पहले 4X4 सिस्टम ऑन कर लें। फंसने के बाद गाड़ी को 4X4 मोड में डालना हमेशा मददगार नहीं होता।