comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

B'day: अमिताभ यूं ​ही नहीं बने बॉलीवुड के शहंशाह, शोहरत की बुलंदी के साथ देखे कई उतार-चढ़ाव


डिजिटल डेस्क, मुम्बई। ​दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन, एक ऐसा नाम, जो बॉलीवुड का शहंशाह है, ये नाम उन्हें ऐसे ही नहीं मिला, बल्कि ये उनकी 77 साल की कड़ी तपस्या है, जिसे अमिताभ ने पूरा करने में अपने आप को झोंक दिया। 10 अक्टूबर को बिग बी 77 साल के हो गए, उम्र का एक और पड़ाव उन्होंने पार कर लिया है। अमिताभ बच्चन मुकद्दर के वो सिकंदर हैं, जिन्होंने अपनी जिंदगी में सफलता, असफलता दोनों देखी, मगर सफलता का कभी गुमान नहीं किया, वो उनकी जिंदादिली में नजर आता है और असफलता से कभी हार नहीं मानी, आकाशवाणी में मिले रिजेक्शन से लेकर उनके 75% खराब हो चुके लीवर तक ऐसे कई उदाहरण हैं।

अमिताभ बच्चन के संघर्ष और सफलता की कहानी जितनी आश्चर्यजनक है, उतनी ही रोमांचक, उतनी ही अविश्वसनीय और सम्मोहक भी है। शोहरत की बुलंदी और जिंदगी के उतार-चढ़ावों के देखकर हमें बिग बी 77वें जन्मदिन पर उनके पिता हरिवंशराय बच्चन की कविता 'तू रुकेगा कभी तू ना झुकेगा कभी' की याद आती है, जो उन पर इस समय बेहद सटीक बैठती है। अमिताभ अब तक के सफर में आज जिस वो मुकाम पर पहुंचे है, वो अमिताभ होने के सही मायनों को दर्शाते हैं। 

कमेंट करें
1UsnQ