दैनिक भास्कर हिंदी: Kangana Vs Shiv Sena: कंगना के ड्रग्स कनेक्शन की जांच कराएगी महाराष्ट्र सरकार, गृह मंत्री अनिल देशमुख ने दिए आदेश

September 8th, 2020

हाईलाइट

  • बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत के ड्रग कनेक्शन की जांच शुरू
  • अध्ययन सुमन के पुराने इंटरव्यू के आधार पर कराई जा रही जांच

डिजिटल डेस्क, मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच से इतर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच नया दंगल शुरू हो गया है और यह पूरा मसला ओछी राजनीति में भी तब्दील होता नजर आ रहा है। शिवसेना सांसद संजय राउत और कंगना के बीच सोशल मीडिया पर शुरू हुई जुबानी जंग इतनी बढ़ गई है कि, महाराष्ट्र सरकार मुंबई स्थित ऑफिस से लेकर ड्रग कनेक्शन तक चारों ओर से एक्ट्रेस को घेरने की कोशिश की जा रही है। अब शिवसेना से पंगा लेने वाली कंगना की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं।

मंगलवार को महाराष्ट्र सरकार ने कंगना के ड्रग कनेक्शन की जांच शुरू कर दी है। राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने जांच के आदेश दिए हैं। देशमुख ने कहा, अध्ययन सुमन के पुराने इंटरव्यू के आधार पर यह जांच कराई जा रही है।

ड्रग्स पेडलर्स से मेरा लिंक मिला तो हमेशा के लिए मुंबई छोड़ दूंगी- कंगना
अपने खिलाफ ड्रग्स मामले की जांच को लेकर कंगना रनौत ने कहा, कृपया मेरे ड्रग टेस्ट, मेरे कॉल रिकॉर्ड की जांच करें यदि आपको ड्रग पेडलर्स से मेरा कोई लिंक मिलता है तो मैं अपनी गलती स्वीकार करूंगी और हमेशा के लिए मुंबई छोड़ दूंगी।

शिवनेता नेता सुनील प्रभु और प्रताप सरनाईक ने अध्ययन सुमन के पुराने इंटरव्यू की एक कॉपी महाराष्ट्र सरकार को सौंपी है। अध्ययन सुमन ने आरोप लगाया था, कंगना ड्रग लेती हैं और उसे भी जबरदस्ती ड्रग का सेवन कराया था। इसके बाद सरकार ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं। महाराष्ट्र पुलिस ड्रग्स मामले की जांच करेगी। गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा, कंगना रनौत की शेखर सुमन के लड़के अध्ययन सुमन से दोस्ती थी और अध्ययन सुमन ने एक इंटरव्यू में बताया था कि कंगना रनौत ड्रग लेती हैं।

BMC ने कंगना रनौत के ऑफिस पर छापामारी के एक दिन बाद मंगलवार को 'स्टॉप वर्क नोटिस' जारी किया है। यह नोटिस म्यूनिसिपल एक्ट की धारा 354/A के तहत जारी किया गया है। कंगना के पाली हिल स्थित ऑफिस के गेट पर नोटिस चस्पा किया गया है। 

कंगना रनौत ने नोटिस की तस्वीर ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा, सोशल मीडिया में मेरे दोस्तों की तरफ से मिली आलोचनाओं की वजह से BMC के लोग अपने साथ बुलडोजर लेकर नहीं आये। इसके बजाए उन्होंने ऑफिस में चल रहे लीकेज के काम को रोकने के लिए नोटिस चस्पा किया। 

बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) के अधिकारियों की एक टीम सोमवार दोपहर कथित अवैध निर्माण की जांच करने के लिए बांद्रा पश्चिम के पाली हिल में एक्ट्रेस कंगना रनौत के आफिस पहुंची। कंगना ने खुद इसका वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया था।

क्या कहा कंगना रनौत ने?
इस वीडियो के साथ कंगना ने ट्विटर पर लिखा, 'ये मुंबई में मणिकर्णिका फिल्म्स का ऑफिस है, जिसे मैंने पंद्रह साल मेहनत करके कमाया है। मेरा जिंदगी में एक ही सपना था मैं जब भी फिल्म निर्माता बनूं, मेरा अपना खुद का ऑफिस हो, मगर लगता है ये सपना टूटने का वक्त आ गया है, आज वहां अचानक बीएमसी के कुछ लोग आए हैं।' एक अन्य ट्वीट में कंगना ने लिखा- बीएमसी के लोग जबरन ऑफिस में घुस आए और जांच करने लगे। उन्होंने पड़ोसियों को भी परेशान किया और कहा, वो जो मैडम हैं उसकी करतूत का परिणाम सबको भरना होगा। कंगना ने आशंका जताई कि कल उनका ऑफिस तोड़ा जा सकता है।

क्या है मामला?
बता दें कि खुद को हरामखोर कहे जाने पर बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने शिवसेना सांसद संजय राउत को करारा जवाब दिया था। कंगना ने कहा था, आपके लोग कह रहे मेरा जबड़ा तोड़ देंगे और मार डालेंगे। मैं 9 सितंबर को मुंबई आ रही हूं। दरअसल, शनिवार को एक न्यूज चैनल के रिपोर्टर ने राउत से कंगना के उस बयान पर रिएक्शन मांगा था, जिसमें उन्होंने 9 सितंबर को मुंबई आने की बात कही थी और चुनौती दी थी कि रोक सको तो रोक लो। जवाब में राउत ने कहा था, 'आप क्या उस हरामखोर लड़की की वकालत कर रहे हो?' इस विवाद के बाद कंगना को Y सिक्योरिटी दी गई है। 

खबरें और भी हैं...