दैनिक भास्कर हिंदी: 11th एडमिशन: सवालों में केंद्रीय प्रवेश प्रक्रिया, पालकों ने की जांच की मांग, शिक्षा विभाग को नोटिस

July 3rd, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। 11वीं कक्षा में प्रवेश के लिए निर्धारित केंद्रीय प्रवेश प्रक्रिया सवालों के घेरे में आ गई है। प्रवीण उपासनी समेत 7 पालकों ने इसे लेकर हाइकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। पालकों का दावा है कि उनके बच्चों को 10वीं कक्षा में बेहतर प्रतिशत अंको के साथ मेरिट स्थान मिला है। मगर 11वीं कक्षा में प्रवेश के लिए जब उन्होंने केंद्रीय प्रवेश प्रक्रिया में हिस्सा लिया, तो उन्हें निराश हाथ लगी।

ओपन श्रेणी के विद्यार्थियों ने महल की नई इंग्लिश हाई स्कूल को पहले विकल्प के तौर पर चुना था। मगर शिक्षा विभाग ने जब मेरिट लिस्ट जारी की, तो उसमें स्कूल का नाम ही नदारद था। नतीजतन विद्यार्थियों को 11वीं कक्षा में प्रवेश नही मिल सका। पलकों ने याचिका में कोर्ट को बताया कि प्रवेश प्रक्रिया में इस तरह की गड़बड़ियां लगातार सामने आ रही हैं।

याचिका में मांग की गई कि राज्य सरकार को इसकी जांच करनी चाहिए। याचिकाकर्ता का पक्ष सुनने के बाद हाइकोर्ट ने राज्य शिक्षा विभाग सचिव समेत अन्य प्रतिवादियों को नोटिस जारी कर 7 जुलाई तक जवाब मांगा है|