भारी बरसात का असर : राज्य के जलाशयों में 25 फीसदी अधिक पानी, 3267 जलाशयों में 59.98 % जलसंचय

July 21st, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य में जुलाई महीने में हुई अच्छी बारिश के कारण जलाशयों में पिछले साल के मुकाबले 24.86 प्रतिशत अधिक जलभंडार है। बड़े, मध्यम और छोटे मिलाकर कुल 3267 जलाशयों में 59.98 प्रतिशत जलसंचय है। जबकि पिछले साल इस दिन केवल 35.12 प्रतिशत पानी उपलब्ध था। यानी पिछले साल की तुलना में जलाशयों में अभी 24.86 प्रतिशत ज्यादा पानी उपलब्ध है। 

5 Best Dams Of Maharashtra That You Must Visit In Monsoon - Nativeplanet

चंद्रपुर, नाशिक, पुणे सहित दूसरे जिलों के 9 जलाशयों में लबालब यानी 100 प्रतिशत पानी उपलब्ध है। वहीं औरंगाबाद के जायकवाड़ी जलाशय में 80.03 प्रतिशत और भंडारा के गोसीखुर्द जलाशय में सिर्फ 25.06 प्रतिशत जलसंचय है।  गुरुवार को राज्य के जलसंसाधन विभाग की ओर से यह जानकारी मिली। इसके अनुसार राज्य के जलग्रहण क्षेत्र (कैचमेंट एरिया) में अच्छी बारिश होने के चलते जलाशयों में भरपूर पानी उपलब्ध हो पाया है। राज्य भर के जलाशयों में 32064.03 मिलियन क्यूबिक मीटर (दस लाख घनमीटर)) पानी उपलब्ध है। जिसमें से 24459.78 मिलियन क्यूबिक मीटर पानी इस्तेमाल करने योग्य है। 

Visit These Majestic Dams During The Monsoon Season In India - Nativeplanet

नागपुर विभाग में 56.49 प्रतिशत पानी, पिछले साल 34.37 फीसदी ही था

नागपुर विभाग के 384 जलाशयों में 56.49 प्रतिशत पानी उपलब्ध है। जबकि पिछले साल इस दिन नागपुर विभाग के जलाशयों में 34.37 प्रतिशत पानी उपलब्ध था। अमरावती विभाग के 446 जलाशयों में पिछले साल के 38.31 प्रतिशत पानी के मुकाबले अभी 61.53 प्रतिशत जल भंडारण है। औरंगाबाद विभाग के 964 जलाशयों में 53.79 प्रतिशत पानी की उपलब्धता है। जबकि पिछले साल इस समय 30.74 प्रतिशत जलसंचय था। नाशिक विभाग के 571 जलाशयों में पिछले साल के 23.7 प्रतिशत की तुलना में फिलहाल 56.56 प्रतिशत पानी उपलब्ध है। कोंकण विभाग के 176 जलाशयों में 83.82 प्रतिशत जलसंग्रह है। पिछले साल कोंकण विभाग के जलाशयों में 56.56 प्रतिशत पानी था। पुणे विभाग के 726 जलाशयों में बीते साल के 36.16 प्रतिशत की तुलना में फिलहाल 59.47 प्रतिशत पानी उपलब्ध है।

किस विभाग के जलाशय में कितना जलसंचय 

विभाग                 इस साल उपलब्ध पानी   पिछले साल उपलब्ध पानी     
नागपुर विभाग           56.49 प्रतिशत               34.37 प्रतिशत 
अमरावती विभाग       61.53 प्रतिशत               38.31 प्रतिशत  
औरंगाबाद विभाग      53.79 प्रतिशत               30.74 प्रतिशत 
नाशिक विभाग           56.56 प्रतिशत              23.7 प्रतिशत 
कोंकण विभाग           83.82 प्रतिशत               56.56 प्रतिशत  
पुणे विभाग                59.47 प्रतिशत              36.16 प्रतिशत   

Maharashtra: State Cabinet approves policy to develop rest houses & dam  sites

इन जलाशयों में 100 प्रतिशत पानी उपलब्ध 

जिला        जलाशय               जलस्तर 
नांदेड़        निम्न मनार         100 प्रतिशत 
पालघर       कवडास             100 प्रतिशत 
चंद्रपुर      असोलामेंढा           100 प्रतिशत 
गडचिरोली      दिना               100 प्रतिशत 
नाशिक       भाम जलाशय      100 प्रतिशत 
नाशिक        वाघाड                100 प्रतिशत 
नाशिक        ओझरखेड           100 प्रतिशत 
ठाणे             बारवी                100 प्रतिशत  
पुणे         खडकवासला           100 प्रतिशत