comScore

नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के आरोपी अतीक उर्फ समीर के खिलाफ 2 थाना क्षेत्रों में दर्ज किए गए 4 नए अपराध  

September 14th, 2020 15:53 IST
नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के आरोपी अतीक उर्फ समीर के खिलाफ 2 थाना क्षेत्रों में दर्ज किए गए 4 नए अपराध  

डिजिटल डेस्क सतना। शादी का झांसा देकर एक नाबालिग छात्रा के शारीरिक शोषण के शातिर आरोपी अतीक मंसूरी उर्फ समीर उर्फ सिकंदर खान के खिलाफ रविवार को सिटी कोतवाली और कोलगवां थाने में अलग-अलग 4 नए अपराध दर्ज किए गए। पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने बताया कि दो पैन कार्ड रखने, रेल टिकट में वीआईपी आरक्षण के लिए नेताओं के फर्जी लेटर हेड का उपयोग करने और कूट रचित दस्तावेजों के आधार पर पहचान छिपा कर धोखाधड़ी करने के आरोप में 
में जहां आईपीसी की धारा- 420, 467, 468 और 471  के तहत कायमी की गई है,वहीं सिटी कोतवाली में सूदखोरी और धमकियां देने के आरोप में  आईपीसी के सेक्सन 384 एवं कर्जा अधिनियम की धारा- 4 के तहत अलग-अलग एफआईआर दर्ज की गई है। उल्लेखनीय है, आरोपी अतीक मंसूरी उर्फ समीर खान आईपीसी की धारा- 376 (2) (आई), 346 (2) (एन), 323,506 और 5/6 पास्को एक्ट के तहत कोलगवां पुलिस की रिमांड पर है। आरोपी के खिलाफ आरपीएफ थाना समेत अब तक 4 पुराने मामले भी सामने आए हैं। एक एक सवाल के जवाब में एसपी ने बताया कि इस मामले में हवाला और हुंडी कारोाबरियों के साथ आरोपियों के संबंधों की भी जांच कराई जाएगी।   
धर्म परिवर्तन कर की थी शादी, और फिर तलाक :-----
एसपी ने बताया कि बेहद शातिर किस्म के इस आरोपी का असली नाम अतीक मंसूरी हैं,मगर इसने वर्ष 2011 में नई दिल्ली स्थित आर्य समाज से धर्म परिवर्तन का शुद्धि प्रमाण पत्र हासिल करते हुए अपना नाम समीर रख लिया था। उसने इसी वर्ष पहले  वैदिक हिन्दू सभा, छोटी बजरिया गाजियाबाद और फिर आर्य समाज मंदिर नई दिल्ली में इसी नाम से एक हिंदू लड़की से शादी की थी। बाद में आरोपी ने वर्ष 2017 में तलाक लेकर रिश्ता तोड़ दिया था। आरोप है इसके बाद आरोपी ने समीर खान नाम से अपनी पहचान बनाई और जिम में संपर्क में आई नाबालिग छात्रा से मेल जोल बढ़ाने के लिए वह स्वयं का परिचय समीर सिंह के रुप में देने लगा। अपने कई नाम की आड़ में वह अपने असली नाम को अपराधिक रिकार्ड से बचाने में भी कामयाब था। 
 एक  शातिर के 3 नाम और 2 पैनकार्ड :----------
 एसपी ने बताया कि आरोपी के मोबाइल फोन, लैपटॉप, हार्डडिस्क, चेकबुक और पास बुक जब्त की गई हैं।  अब तक उसके 5 बैंक एकाउंटस का पता चला है। बैंक लाकर भी खोले जाएंगे। उन्होंने बताया कि आरोपी ने शस्त्र लाइसेंस की जानकारी छिपाई थी।  उसने थाईलैंड और मलेशिया की  यात्रा भी की थी। उसकी विदेश यात्रा की भी जांच कराई जाएगी। इंकम टैक्स के काम वह अपने प्रचलित नाम पर नहीं कर रहा था। उसके पास 2 पैन कार्ड भी बरामद हुए हैं। अतीक उर्फ समीर खान व्यक्तिगत जानकारी छिपाकर पैनकार्ड का उपयोग वर्ष 2010 के पहले से कर रहा था।  इसके ज्यादातर दस्तावेज प्रथम दृष्टया फर्जी पाए गए हैं। 
नेताओं के फर्जी लेटर हेड भी जब्त :----
पुलिस को उसके पास से भारी मात्रा में विभिन्न नेताओं के फर्जी लेटर हेड भी मिले हैं।  सांसद गणेश सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय, विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा, पूर्व विधायक शंकर लाल तिवारी, सीधी सांसद रीति पाठक और पूर्व विधायक यादवेन्द्र सिंह के नाम के इन फर्जी लेटर हेड का उपयोग आरोपी  रेल यात्रा के रिजरवेशन के लिए किया करता था। 
 

कमेंट करें
rV6tz