दैनिक भास्कर हिंदी: 13 तोला सोना के साथ 7 किलो चांदी पर हाथ साफ, राइफल भी ले गए बदमाश

November 21st, 2017

डिजिटल डेस्क सतना। अमरपाटन थाना अंतर्गत छैरहा गांव में रविवार-सोमवार की दरम्यानी रात एक घर में घुसे चोरों ने सोने-चांदी के गहने व नगदी समेत 315 बोर की राइफल पार कर दी। इस सनसनीखेज वारदात की शिकायत मिलते ही पुलिस मुकदमा दर्ज कर जांच में जुट गई है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक क्षेत्र के बड़े किसानों में शामिल छोटेलाल पटेल पुत्र जगतदेव अपने परिवार के साथ रविवार रात को खाना खाने के बाद बरामदे में बिस्तर डालकर सो गए थे। जबकि उनकी पत्नी, बेटा अशोक, बहू व नाती अलग-अलग कमरों में सोने चले गए थे। तब देर रात अज्ञात बदमाश पीछे की तरफ से दीवार के सहारे छत पर चढकऱ सीढिय़ों से आंगन में पहुंच गए जहां 3 कमरों के दरवाजे बाहर से बंद कर दिए और फिर तिजोरी वाले कमरे का ताला तोडकऱ अंदर घुस गए। चोरों ने बड़ी सफाई से तिजोरी का लॉक खोल लिया और उसमें रखे 45 हजार रूपए नगद, 13 तोला सोने के जेवर, 7 किलो चांदी के गहने व 315 बोर की राइफल निकाल ली। माल हाथ लगते ही चोर उसी रास्ते से घर के बाहर चले गए।
तब पता चला
रात तकरीबन 2 बजे छोटेलाल पटेल का नाती पानी पीने के लिए उठा तो कमरे का दरवाजा नहीं खुला, तब उसने पिता को फोन किया, लेकिन उनके कमरे के गेट पर बाहर से कुन्डी लगी हुई थी। लिहाजा अशोक ने बरामदे में लेटे पिता के मोबाइल पर संपर्क किया तो वह अंदर आए, तब उनकी नजर भंडार कक्ष के दरवाजे पर पड़ी तो अनहोनी की आशंका से घबराकर तुरंत कमरे में गए तो खाली तिजोरी देखकर होश उड़ गए। आनन-फानन नाती व बेटे को कमरे से बाहर निकाला और डायल 100 पर शिकायत कर दी, जिस पर पुलिस रात में ही गांव पहुंच कर जांच में जुट गई।
फॉरेंसिक, फिंगरप्रिंट व डॉग स्क्वाड पहुंचा
बड़ी चोरी की खबर लगते ही अमरपाटन टीआई आरपी द्विवेदी ने वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया जिनके निर्देश पर रीवा से फॉरेंसिक अधिकारी डॉ. आरपी शुक्ला व डॉग स्क्वाड को छैरिहा भेजा गया जबकि फिंगरप्रिंट विशेषज्ञ वीरेन्द्र पटेल जिला मुख्यालय से मौके पर पहुंचे। संयुक्त टीम ने बारीकी से पूरे घर व आसपास के इलाके का मुआयना कर तमाम जरूरी प्रमाण एकत्र किए, लेकिन चोरों के बारे में कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लगा। वारदात में स्थानीय व बाहरी बदमाशों के गठजोड़ की आशंका जताई जा रही है।
पैरा में दबी मिली राइफल
पुलिस टीम जब जांच पड़ताल कर रही थी, इस दौरान घर के बाहर रखे धान के पैरा को उलटने-पलटने पर नीचे दबी राइफल बरामद हो गई। माना जा रहा है कि चोरों ने पकड़े जाने के डर से भागते समय राइफल वहीं फेंक दी।