comScore

सरकारी जमीन पर कब्जा करना चाहता था आरोपी - अड़ंगा डाल रही महिला का गला रेतकर कर दी थी हत्या

सरकारी जमीन पर कब्जा करना चाहता था आरोपी - अड़ंगा डाल रही महिला का गला रेतकर कर दी थी हत्या

डिजिटल डेस्क सतना। रामपुर बाघेलान थाना क्षेत्र के डांडी टोला- बांधा में 31 मार्च की रात को धारदार हथियार से गला रेतकर और चेहरे पर चोट पहुंचाकर 50 वर्षीय शीला गोस्वामी पति रामप्रताप उर्फ साधू गोस्वामी की हत्या का चार दिन के भीतर ही खुलासा करते हुए पुलिस ने आरोपी प्रहलाद उर्फ अमित कोल पुत्र परगवां उर्फ पराग कोल 25 वर्ष निवासी बांधा को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के कब्जे से घटना में प्रयुक्त छुरा और पहने गए कपड़े भी जब्त किए गए हैं। टीआई अनिमेष द्विवेदी ने बताया कि 1 अप्रैल की सुबह घर के बाहर चारपाई पर महिला की लाश मिलने के बाद जांच-पड़ताल शुरू की गई थी, इस दौरान मृतका के पति और परिजनों व ग्रामीणों से पूछताछ के अलावा मुखबिरों के जरिए सुराग जुटाए गए, तब पता चला कि शीला का तीन लोगों से विवाद चल रहा था। लिहाजा संदेह के आधार पर तीनों को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की गई, जिसमें प्रहलाद उर्फ अमित ने अंतत जुर्म स्वीकार कर लिया, जिस पर आरोपी को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया।
जमीन में कब्जे का विरोध करने से था नाराज
आरोपी ने पुलिस को बताया कि शीला और उसका पति सीधी से कई वर्ष पूर्व यहां आकर रहने लगे थे। दोनों ने सरकारी जमीन में कब्जा कर घर भी बना लिया था। कुछ माह पहले आरोपी ने उसके पास ही कच्चा मकान खड़ा कर लिया, मगर महिला के विरोध और झगड़ों के कारण वहां रह नहीं पाया, जिससे मकान कुछ समय बाद गिर गया। इसी वजह से वह रंजिश मानने लगा, इसी बीच 27 मार्च को शीला का पति बड़े बेटे विनोद के पास हनुमानगढ़ चला गया। यह बात पता चलते ही आरोपी ने महिला को रास्ते से हटाने की योजना बनाई और 31 मार्च की रात को ढाई बजे खेत से लौटकर शराब पीने के पश्चात उसके घर पहुंच गया, जहां शीला बाहर चारपाई पर सो रही थी। तब नींद में ही लोहे के छुरे से गला रेतकर हत्या कर दिया और उसका चेहरा भी कुचल दिया था। वारदात के बाद आरोपी गांव से गायब हो गया था, जिससे उस पर गहरा संदेह हो गया।
इस टीम को मिली सफलता
अंधी हत्या का खुलासा करने में रामपुर टीआई के साथ एसआई आरसी शुक्ला, आरपी तिवारी, ओशो गुप्ता, साइबर सेल प्रभारी अजीत सिंह, एएसआई रामकुशल शुक्ला, दीपेश पटेल, प्रधान आरक्षक तुलसीदास, आरक्षक नीलेश यादव, संदीप पांडेय और कृतिका पाठक ने अहम भूमिका निभाई।

कमेंट करें
YcAVS