comScore

ऑटो चालकों ने मेट्रो बसों में की तोडफ़ोड़ सवारियों को बैठने से रोका, मचाया हंगामा -हड़ताल स्थगित

ऑटो चालकों ने मेट्रो बसों में की तोडफ़ोड़ सवारियों को बैठने से रोका, मचाया हंगामा -हड़ताल स्थगित

डिजिटल डेस्क जबलपुर ।ऑटो चालकों ने बुधवार को भी मेट्रो बसों के चलने पर नाराजगी  िदखाई। सभी मार्गों की बसों को बीच रास्ते में रोककर पत्थरबाजी की। पत्थर मारने से तकरीबन एक दर्जन बसों के आगे और पीछे के काँच तीन दिनों में तोड़ दिए गए । इस दौरान चालकों-परिचालकों को भी मारा गया है, साथ ही सवारियों को मेट्रो में बैठने से रोका गया। जेसीटीएसएल ने इसकी शिकायत पुलिस के आला अधिकारियों से की है। गौरतलब है कि सोमवार से ऑटो चालक हड़ताल पर थे। पहले दिन तो हड़ताल का असर सड़कों पर नजर आया, लेकिन दूसरे दिन हड़ताल का कोई खास असर दिखाई नहीं दिया, क्योंकि सीटीएसएल ने सवारियों की दिक्कतों को देखते हुए मेट्रो बसों की संख्या बढ़ा दी थी। वहीं ऑटो न चलने से राहगीर सड़कों पर राहत की साँस ले रहे थे, यही बात ऑटो चालकों को रास नहीं आई और वे मेट्रो बसों को क्षति पहुँचाने निकल पड़े।  एक दिन पहले मंगलवार को  बल्देवबाग, दमोहनाका, रानीताल, डीआरएम ऑफिस के सामने से निकलने वाली बसों को रोककर उनके काँच फोड़ दिए गए थे, तो वहीं बुधवार को खमरिया, राँझी मार्ग की बसों में तोडफ़ोड़ की गई।
ऑटो चालकों की हड़ताल स्थगित
ऑटो चालकों ने अपनी हड़ताल 15 अक्टूबर तक के लिए स्थगित कर दी है। जबलपुर ऑटो मालिक चालक संघ के विजय साहू ने बताया कि वरिष्ठ अधिकारियों ने उनकी माँगों को सड़क सुरक्षा समिति में रखने का आश्वासन दिया है उसके उपरांत ही हड़ताल को स्थगित किया जा रहा है। यदि उनकी माँगें पूरी न हुईं तो हड़ताल पुन:प्रारंभ कर दी जाएगी। 
 

कमेंट करें
aBz7R