दैनिक भास्कर हिंदी: 20 दिन पहले ही बनी थी मां, बच्चे को बचाने में मलबे में दब गई महिला

January 11th, 2018

डिजिटल डेस्क, पटना। कभी-कभी घर में चैन से सोते हुए एक ऐसी आपत्ति आ जाती है, जिसके बारे में कभी सोचा भी नहीं जा सकता था। कुछ ऐसा ही बिहार के भागलपुर में भी हुआ, जहां चैन से सो रहे एक परिवार पर दो मंजिला मकान ढहकर गिर गया। मकान के मलबे में 20 दिन पहले ही मां बनी किरण देवी दब गई और उनकी मौत हो गई। हादसे के वक्त घर में किरण देवी के साथ उनके पति गोविंद शर्मा, नवजात और ससुर भी था। गोविंद ने बताया कि उनकी पत्नी किरण 20 दिन पहले ही मां बनी थी और सोमवार को ही उनके घर में जश्न मना था।

house collapse at bhagalpur woman died under debris


किरण को मकान गिरने का एहसास हो गया था

किरण के पति गोविंद शर्मा ने मीडिया को बताया कि बुधवार रात हम सब सो रहे थे, तभी मकान में दरार पड़ने की आवाज आई और उनकी पत्नी की नींद खुल गई। उसने अपने पति को कहा कि बाबू को लेकर बाहर निकलिए और फिर एक ही झटके में पूरा मकान भरभराकर ढह गया। गोविंद ने बताया कि उनकी शादी को 12 साल हो गए थे और अभी तक बच्चा नहीं हुआ था। 20 दिन पहले ही किरण को बेटा हुआ था।



खुदाई की वजह से गिर गया मकान

गोविंद ने आगे बताया कि उनके घर के पास ही खाली जमीन पड़ी है। वहां जेसीबी से खुदाई की जा रही थी, उसी से घर में दरार पड़ना शुरू हो गई और फिर जरा सी देर में ही मकान गिर गया। इस हादसे में महिला के पति गोविंद, बच्चा और ससुर बाल-बाल बच गए। गोविंद ने ये भी कहा कि अभी हम बच्चे के होने की खुशी भी नहीं बना पाए थे, कि हादसे ने उनकी पत्नी को छीन लिया।

किरण ने पति से बोला- बाबू को लेकर बाहर निकलिए

गोविंद ने बताया कि हम सब घर में सो रहे थे, तभी मकान में दरार पड़ने की आवाज आई। इस आवाज से उनकी पत्नी उठ गई और उसने तुरंत अपने पति गोविंद से कहा कि बाबू को लेकर बाहर निकलिए। गोविंद अपने 20 दिन के बच्चे को लेकर बाहर निकले ही थे कि तभी पूरा दो मंजिला मकान ढह गया। इस हादसे में किरण मलबे में दब गई। बाद में काफी मशक्कत से जैक लगाकर किरण को मलबे से निकाला गया, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका।

किरण ने लिखा था 'टूडेज़ हैप्पी मोमेंट ऑफ लिटिल फंक्शन'

किरण के बेटे का नाम दिव्य था। दिव्य के पैदा होने पर सोमवार (8 जनवरी) को ही घर में एक छोटा सा फंक्शन रखा गया था। इस फंक्शन की कुछ फोटो किरण ने फेसबुक पर भी पोस्ट की थी। फोटो पोस्ट करते हुए किरण ने लिखा था 'टूडेज़ हैप्पी मोमेंट ऑफ लिटिल फंक्शन'। इसमें सारी फोटो दिव्य और अपने पति के साथ ही थी। बताया जा रहा है कि किरण बंगाल के गड़भित्ता की रहने वाली थी और उसके माता-पिता पहले ही गुजर गए थे। बाद में किरण की देखभाल उसके चाचा ने की, लेकिन वो भी कुछ सालों पर गुजर गए। किरण के पति गोविंद किसी दुकान में काम करते थे।