comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

विधानसभा गैलरी से कूदने की कोशिश, अर्णी के भाजपा विधायक के खिलाफ कार्रवाई की मांग 

विधानसभा गैलरी से कूदने की कोशिश, अर्णी के भाजपा विधायक के खिलाफ कार्रवाई की मांग 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रश्नकाल के दौरान मंत्री से संतोषजनक जवाब न मिलने से नाराज अर्णी (यवतमाल) के भाजपा विधायक संदीप धुर्वे ने विधानसभा की गैलरी से कूदने की कोशिश की। अर्णी नगर परिषद में मानसून पूर्व घोटाले के मामले में भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे संबंधित अधिकारियों को निलंबित करने की मांग कर रहे थे। लेकिन शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि सीधे अधिकारियों पर कार्रवाई संभव नहीं है। इस मुद्दे पर सत्तापक्ष और विपक्ष के सदस्यों के बीच चल रही बहस के दौरान नाराज धुर्वे ने कहा कि सरकार उनके प्रश्न का सही जवाब नहीं दे रही है। उन्होंने गैलरी से छलांग लगाने की धमकी दी। बता दें कि कोरोना संक्रमण के चलते कुछ विधायकों के लिए दर्शक दीर्घा में बैठकर सदन की कार्यवाही में शामिल होने की व्यवस्था की गई है। धुर्वे की इस धमकी के बाद नीचे सदन में बैठे भाजपा विधायकों ने उनसे इशारों में ऐसा न करने का आग्रह किया। इस बीच कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष नाना पटोले ने इस पर नाराजगी जताई और कहा कि सभागृह में इस तरह की हरकत ठीक नहीं है और धुर्वे के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। संसदीय कार्यमंत्री अनिल परब ने भी कहा कि धुर्वे ऊपर से कूदने की कोशिश कर रहे हैं। आत्महत्या करना अपराध है। उन्होंने सवाल किया कि क्या उपाध्यक्ष इस मामले में कार्रवाई करेंगे। बाद में धुर्वे ने कहा कि मैं ऊपर से कूदने नहीं जा रहा था। घोटाले के मामले में कार्रवाई को लेकर बस ध्यान खींचने के लिए आवाज दे रहा था। 


विधानसभा में गूंजा अकोट के विधायक भारसाकले को धमकी का मामला

अकोला जिले के अकोट क्षेत्र से भाजपा विधायक प्रकाश भारसाकले और उनके परिवार को जान से मारने की मिली धमकी देते हुए फिरौती मांगने का मुद्दा मंगलवार को विधानसभा में उठा। विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि छह बार विधायक रहे भारसाकले को धमकी भरा पत्र आया है। इसमें लिखा गया है कि 40 लोगों का गैंग आया है। पत्र में भारसाकले और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई है। इससे बचने के लिए पांच करोड़ रुपए की फिरौती मांगी गई है। फडणवीस ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मांग की कि वे पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को भारसाकले और उनके परिवार को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश दें। मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि वे भारसाकले से इस मुद्दे पर बात कर हर जरूरी कदम उठाएंगे। भारसाकले ने धमकी की शिकायत दर्यापुर पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई है। धमकी भरा पत्र 20 फरवरी को भेजा गया था। भारसाकले की पत्नी नगराध्यक्ष और बेटे विजय जिनिंग प्रेसिंग के संचालक हैं। 
 

कमेंट करें
02IMX