दैनिक भास्कर हिंदी: बीएमसी उपायुक्त की कोरोना से मौत, अब तक 55 मनपा कर्मचारियों की जा चुकी है जान

June 9th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महानगरपालिका (बीएमसी) उपायुक्त शिरीष दीक्षित की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई है। 55 वर्षीय दीक्षित ने सोमवार आधी रात अपने माहिम स्थित घर में ही आखिरी सांस ली। दीक्षित मुंबई महानगरपालिका के जल आपूर्ति विभाग में मुख्य अभियंता के रूप में कार्यरत थे। विभाग की जिम्मेदारी उन पर ही थी। दो दिन पहले दीक्षित ने कोरोना संक्रमण की जांच कराई थी। सोमवार को कोरोना संक्रमण की रिपोर्ट पॉजिटिव आई इसकी जानकारी मिलने के बावजूद वे काम पूरा करके ही घर गए थे। सामान्य तौर पर उनमें बीमारी के कोई लक्षण नहीं दिखाई दे रहे थे,  इसलिए उन्होंने घर पर ही खुद को अलग-थलग करने का फैसला किया था। लेकिन रात में नींद में ही उनकी मौत हो गई। जब सुबह वे नींद से नहीं जागे, तो परेशान पत्नी ने मुंबई महानगरपालिका को फोन कर एंबुलेंस की मांग की। एंबुलेंस के कर्मचारियों ने घर जाकर जांच की, तो उनकी मौत हो चुकी थी। जिसके बाद उनका शव सायन अस्पताल भेज दिया गया। एक अधिकारी के मुताबिक मौत की वजह हार्ट अटैक भी हो सकता है। हालांकि जांच के बाद ही इसकी पुष्टि होगी। बता दें कि मुंबई महानगर पालिका के 55 कर्मचारी अब तक कोरोना संक्रमण के चलते जान गवां चुके हैं। मुंबई महानगर पालिका ने सोमवार को ही कोरोना के चलते जान गंवाने वाले कर्मचारियों के परिजनों को 50 लाख का मुआवजा देने का ऐलान किया है।

शिवसेना नगरसेवक की मौत

मीरा भायंदर महानगर पालिका में शिवसेना नगरसेवक 50 वर्षीय हरिश्चंद्र आमगांवकर की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई है। वे मीरा भायंदर मनपा में शिवसेना के नेता भी थे। मंगलवार को उन्होंने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ा। उनकी मां भी कोरोना संक्रमित हैं, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है।