दैनिक भास्कर हिंदी: दिल्ली में हुई कटनी के युवक की मौत, ट्रैकिंग के दौरान हुआ दर्दनाक हादसा

January 2nd, 2019

डिजिटल डेस्क, कटनी। मध्य प्रदेश के कटनी जिला निवासी प्रवीण तिवारी की दिल्ली में पार्थसारथी रॉक्स की चोटी चढ़ते समय बैलेंस बिगड़ने से सैकड़ों फुट की ऊंचाई से नीचे गिरने से दर्दनाक मौत हो गई। घटना के दौरान उनके साथी उनका पहाड़ी पर चढ़ने का वीडियो भी बना रहे थे। वीडियो में प्रवीण साथियों से कहते हैं कि चट्टान तो कठोर दिखाई देती है, लेकिन हकीकत में वह ऐसी नही हैं। उनकी मरने की खबर कटनी व जबलपुर पहुंचते ही उनके परिवार व मित्रों में शोक की लहर है।

दर्द दे गया नया साल
स्थानीय जागृति नगर निवासी पुलिस में उप निरीक्षक रामसखा तिवारी के लिए नया साल एक ऐसा दर्द के दे गया, जिसे वह और उनका परिवार कभी नहीं भूलेगा। होनहार युवा पुत्र पार्थसारथी राक्स में हादसे का शिकार हो गया। युवक के निधन की खबर से परिवार में कोहराम मच गया। जागृति नगर निवासी रामसखा तिवारी डीआईजी कार्यालय जबलपुर में एसआई के पद पर कार्यरत हैं।

दिल्ली में एक कंपनी में की थी ज्वाइंनिंग-
उनके दो पुत्र हैं बड़ा पुत्र नवीन एवं  छोटा पुत्र  प्रवीण तिवारी है। 30 वर्षीय प्रवीण ने गुजरात युनिवर्सिटी से पीएचडी कर कुछ दिनों पहले ही दिल्ली में टीसीएसएसआर कंपनी ज्वाइन की थी। वह पांच दिन पहले ही कटनी से दिल्ली के लिए रवाना हुए थे कि तीसरे ही दिन दुखद हादसे की खबर ने पूरे परिवार को हिला कर रख दिया।

बैलेंस बिगड़ने से सैकड़ों फीट ऊंचाई से गिरा
जेएनयू के ब्रह्मपुत्र हॉस्टल में रहते थे। प्रवीण तिवारी पार्थसारथी रॉक्स की चोटी चढ़ते समय बैलेंस बिगड़ऩे से सैकड़ों फीट की ऊंचाई से नीचे गिर गये, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के दौरान उनके साथी उनका पहाड़ी पर चढ़ने का वीडियो भी बना रहे थे। घटना के संबंध में बताया जाता है कि प्रवीण अपने दोस्त के साथ कैंपस के पास स्थित पार्थसारथी रॉक्स घूमने गए थे। घटना के समय का एक वीडियो भी सामने आया है, वीडियो में प्रवीण तिवारी संकरी चट्टानों पर चढ़ते दिख रहे हैं। कुछ देर बाद ही तिवारी का बैलेंस बिगड़ जाता है और वह नीचे गिर जाते हैं।

कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं हैं पिता
प्रवीण के दोस्त ने हॉस्टल और पुलिस को जानकारी दी। प्रवीण को समीप के एक अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। परिवार के सदस्यों को गहरा सदमा लगा है। इस संबंध में मृतक प्रवीण के पिता रामसखा तिवारी ने कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं हैं।