दैनिक भास्कर हिंदी:  विंध्य में अपना वजूद  खो चुकी है बसपा, प्रत्याशी अपनी जमानत भी नहीं बचा पाए 

May 25th, 2019

डिजिटल डेस्क, सतना। विंध्य में बहुजन समाज पार्टी निरंतर अपना वजूद खोती जा रही है। विंध्य के रीवा और शहडोल संभाग की सभी 4 लोक सभा सीटों में अबकि बसपा ने अपने प्रत्याशी उतारे थे। चारो अपनी जमानतें तक नहीं बचा पाए। तकरीबन नब्बे के दशक में विंध्यांचल में तीसरी ताकत के तौर पर पैर जमाने में कामयाब रही बसपा का थोक वोट बैंक पार्टी के हाथ से फिसल चुका है। 

28 वर्ष पहले खुला था खाता 
उल्लेखनीय है, विंध्य में बसपा का पहला खाता वर्ष 1991 में रीवा लोकसभा सीट पर खुला था। तब भीम सिंह सांसद चुने गए थे। इसी सीट पर वर्ष 1996 में  बुद्धसेन पटेल और वर्ष 2009 में देवराज सिंह भी बसपा के सांसद चुने गए थे। इससे पूर्व वर्ष 1996 में तब सतना लोकसभा सीट पर बसपा के ही सुखलाल कुशवाहा ने भी प्रदेश के दो पूर्व मुख्य मंत्रियों को हराकर सबको हैरत में डाल दिया था। ये दीगर बात है कि वर्ष 2009 के चुनाव में बसपा के सुखलाल कड़ी टक्कर देने के बाद भी नाकाम रहे थे। 

मगर, अब सूपड़ा साफ
विंध्य में अब बसपा का सूपड़ा साफ है। विधानसभा के विगत चुनाव में भी बसपा  एक भी सीट नहीं जीत पाई। लोकसभा चुनाव के दौरान सतना सीट पर पार्टी को महज 9.87 फीसदी वोट मिले। रीवा में 8.99, सीधी में 2.07 और शहडोल में बसपा महज 1.66 प्रतिशत वोट ही हासिल कर पाई।

कांग्रेस - अपने ही घर में हारने से उड़ी नींद
प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री कमलनाथ की दो टूक चेतावनी के बाद भी अपनी ही पोलिंग में पार्टी के प्रत्याशी राजाराम त्रिपाठी को जिताने में नाकाम रहे कांग्रेस के दोनों विधायकों , 4 पूर्व विधायकों और विधान सभा के 2 पूर्व प्रत्याशियों की अब नींद उड़ चुकी है। पार्टी सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस के प्रदेश हाईकमान ने इसे गंभीरता से लिया है। जल्दी ही राजधानी भोपाल में होने वाली करारी शिकस्त के कारणों की समीक्षा के दौरान ये मसला बेहद अहम हो सकता है? 

सिर्फ इनके पोलिंग बूथ पर जीती कांग्रेस 
लोकसभा चुनाव के मतदान केंद्र वार परिणामों से ये तथ्य सामने आया है कि  विगत विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस के प्रत्याशी रहे विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष डा.राजेन्द्र कुमार सिंह के मतदान केंद्र क्रमांक 26 में कांग्रेस ने भाजपा को जहां 113 वोट से हराया, वहीं रामपुरबघेलान विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के प्रत्याशी रहे रामशंकर पयासी के स्वयं के मतदान केंद्र क्रमांक-96 में कांग्रेस ने भाजपा को 94 वोट से पराजित किया। 
 

खबरें और भी हैं...