सीबीएसई : कक्षा 10वीं, 12वीं में छात्राओं का उत्कृष्ट प्रदर्शन

July 23rd, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर। सीबीएसई के 10वीं कक्षा के परिणामों पर नजर डालें, तो इस वर्ष शहर के बेसा स्थित पोद्दार इंटरनेशनल स्कूल की छात्रा प्रियशा कापसे ने 99.8 प्रतिशत अंक हासिल करके सर्वोत्तम प्रदर्शन किया। इसी तरह काटोल रोड स्थित सेंटर पाइंट स्कूल की छात्रा अनन्या सिन्हा और संजूबा हाईस्कूल, बहादुरा फाटा की छात्रा मुग्धा चापले ने एक समान 99.4% अंक हासिल करके उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। देश भर से 2109208 िवद्यार्थियों ने यह परीक्षा दी थी, जिसमें से 94.4% विद्यार्थी सफल हुए हैं। इस वर्ष सीबीएसई ने टर्म-1 और टर्म-2 को मिलाकर अंितम नतीजे जारी किए हैं।  टर्म-1 और टर्म-2 में प्रत्येक से 40-40 प्रतिशत और इंटरनल पर 20% अंक दिए गए हैं। 

पुणे विभाग देश में 6वें स्थान पर

इस वर्ष नागपुर शहर से करीब 15 हजार विद्यार्थियों ने 10वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा दी थी। अधिकांश स्कूलों ने अपने शत-प्रतिशत परिणाम लगने का दावा किया है। सीबीएसई द्वारा जारी परिणामों में पुणे विभाग देश में 6वें स्थान पर रहा। नागपुर के सभी स्कूल पुणे विभाग के तहत आते हैं। पूणे डिवीजन से कुल 97.41 प्रतिशत विद्यार्थी सफल हुए हैं। हर बार की तरह इस बार भी देशभर में छात्राएं आगे रहीं हैं। इस वर्ष कुल 95.21% छात्राएं और 93.80% छात्र पास हुए हंै। 

2021 में ट्रैक रिकॉर्ड के आधार पर परिणाम

इस वर्ष देशभर में 2369993 विद्यार्थियों ने 90% से अधिक, वहीं 64908 विद्यार्थियों ने 95% से अधिक अंक हासिल  किए हैं। वर्ष 2021 में कोरोना संक्रमण के चलते 10वीं की परीक्षा रद्द कर दी गई थी। विद्यार्थियों के सालभर के ट्रैक रिकॉर्ड के आधार पर परिणाम जारी किए गए थे। इस परीक्षा में 99.04 प्रतिशत विद्यार्थी सफल हुए थे। 2,00,962 विद्यार्थियों ने 90% से अधिक और  57,824 विद्यार्थियों ने 95% से अधिक अंक हासिल  किए थे। 

एमबीबीएस करना है
परीक्षा के लिए पूरे फोकस के साथ पढ़ाई की थी। मुझे आगे नीट की परीक्षा देकर एमबीबीएस करना है। मेरे पिता मनीष कापसे शहर के सेंट विंसेंट पलोटी कॉलेज में प्रोफेसर हैं। मां वैशाली कापसे गृहिणी हैं। मुझे पढ़ाई के अलावा पेंटिंग और म्यूजिक में रुचि है। 
-प्रियशा कापसे, पोद्दार इंटरनेशनल स्कूल

स्कूल प्लान फॉलो किया 
रोज 4 से 5 घंटे की पढ़ाई मेरी डेली रूटीन का हिस्सा था। मेरी क्लास टीचर अनु सूद मैडम ने मुझे बहुत सपोर्ट किया। मेरे पिता अजय कुमार सिन्हा डब्लूसीएल में हैं और मम्मी रश्मि सिन्हा होममेकर हैं। मुझे मैथ्स में बहुत इंटरेस्ट है। आगे जेईई की परीक्षा देकर आईआईटी में जाने का टार्गेट है। मुझे कंप्यूटर से संंबंधित फील्ड में करियर बनाना है। 
-अनन्या सिन्हा, सेंटर पाइंट स्कूल काटोल रोड 

डॉक्टर बनना है

मेरे माता-पिता दोनों डॉक्टर हैं। मेरे पिता सुब्रह्मण्यम ऑर्थोपेडिक सर्जन हैं। मां राजम एनेस्थेसिस्ट हैं। इसलिए मुझे भी नीट की परीक्षा देकर मेडिकल क्षेत्र में जाना है। मुझे मेरे स्कूल के शिक्षकों ने बहुत मदद की। उनके पढ़ाए हुए टॉपिक्स को रोज रिवाइज करती थी। इसी से सफलता मिली है। 
-अनुष्का सुब्रह्मण्यम, साइंस, सेंटर प्वाइंट स्कूल काटोल रोड  

सीबीएसई के 12वीं कक्षा के बोर्ड परिणाम में छात्राओं ने बाजी मारी है। इस वर्ष शहर के काटोल रोड स्थित सेंटर प्वाइंट स्कूल की छात्रा अनुष्का सुब्रह्मण्यम ने साइंस शाखा में सर्वाधिक 98.8% अंक हासिल करके उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। कॉमर्स में दिल्ली पब्लिक स्कूल की छात्रा प्रियंका बिस्वास ने 98.6% अंक के साथ प्रथम स्थान प्राप्त किया। ह्यमेनिटिज शाखा में भवंस विद्या मंदिर श्रीकृष्ण नगर के छात्र वेदल वासनिक ने 98.4% अंक के साथ प्रथम स्थान प्राप्त किया है।  गौरतलब है कि सीबीएसई के नतीजों का लंबे समय से इंतजार किया जा रहा था। यह परीक्षा 16 अप्रैल से 15 जून के बीच ली गई थी। देश से 14 लाख से अधिक विद्यार्थियों ने यह परीक्षा दी थी, जिसमें से 92.71% विद्यार्थी सफल हुए हैं। इस वर्ष पुणे विभाग में 90.48% विद्यार्थी सफल हुए हैं। नागपुर से 30 स्कूलों से करीब 2 हजार विद्यार्थियों ने यह परीक्षा दी थी।