comScore

मॉस्क खरीदी के कमीशनबाजी में सीएमएचओ निलंबित

मॉस्क खरीदी के कमीशनबाजी में सीएमएचओ निलंबित

डिजिटल डेस्क कटनी । निजी चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में मॉस्क खरीदी को लेकर कमीशन बाजी में फंसे कटनी के सीएमएचओ डॉ.एस.के. निगम को आयुक्त स्वास्थ्य सेवाएं ने निलंबित कर दिया है। रात में निलंबन आदेश आते ही स्वास्थ्य विभाग में हड़कम्प मच गया। कथित सप्लायर के साथ सीएमएचओ के बीच मॉस्क सप्लाई का ऑडियो चैनल में वॉयरल हुआ था। जिसमें कथित सप्लायर कोटेशन के माध्यम से मॉस्क सप्लाई करने का आर्डर मांगते हुए सीएमएचओ की सेवा करने की बात कह रहा है और सीएमएचओ 140 रुपए के मॉस्क की कीमत 190 रुपए करने की बात कह रहे हैं। इस मामले को स्वास्थ्य विभाग के आयुक्त ने गंभीरता से लिया और सीएमएचओ
डॉ.निगम को निलंबित करते हुए संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवाएं जबलपुर अटैच कर दिया है।
भोपाल तक पहुंची शिकायत
डीएमएफ मद से जिला अस्पताल एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में हुई खरीदी की शिकायत शहडोल संसदीय क्षेत्र की सांसद के प्रतिनिधि ने स्वास्थ्य मंत्री एवं मुख्यमंत्री तक पहुंचाई थी। रविवार रात से वायरल ऑडियो भी स्वास्थ्य मंत्री तक पहुंच गया था। इस ऑडियो एवं शिकायत की प्रशासनिक हल्कों में दिन भर चर्चा रही और कार्यवाही तय मानी जा रही थी।
 कागजों में हुई थी खरीदी
 इसके पहले डीएमएफ के मामले में भी सीएमएचओ के ऊपर कार्यवाही की तलवार लटक रही थी। यह मामला अप्रैल माह में सामने आया था। जब साठ लाख रुपए की
खरीदी के बाद भी अस्पतालों में सामग्री नहीं रही। सांसद प्रतिनिधि पद्मेश गौतम ने इसकी सीधी शिकायत स्वास्थ्य मंत्री और मुख्यमंत्री से की। शिकायत पत्र में आरोप लगाया गया कि खनिज मद का दुरुपयोग स्वास्थ्य विभाग ने किया है। चहेतों को सप्लाई देने के लिए अनाप-शनाप रेट में सामग्री का क्रय किया गया है।
जिपं ने लगाई थी रोक
क्रय संबंधी नियमों का पालन नहीं करने पर जिला पंचायत ने भुगतान में रोक लगा दी। देयक की सत्यापित प्रति की मांग की। प्रथम किश्त के रुप में तो पचास प्रतिशत की राशि जारी कर दी। दूसरी किस्त के भुगतान के लिए शर्तें रखी तो स्वास्थ्य  विभाग को पसीने आ गए। विभागीय क्रय समिति के माध्यम से भंडार क्रय नियम के तहत खरीदी, गुणवत्तायुक्त सामग्री, खरीदी के बाद भौतिक सत्यापन की बात लिखित रुप से प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग को कही।
इनका कहना है
स्वास्थ्य सेवाएं आयुक्त द्वारा सीएमएचओ को निलंबित कर दिया गया है। विभाग से आदेश मिल चुका है। बुधवार को किसी वरिष्ठ डॉक्टर को यहां का प्रभार दिया जाएगा।
एस.बी.सिंह, कलेक्टर

कमेंट करें
h87Kw