comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

ठाणे में 15 दिनों में दोगुने हुए कोरोना मरीज, अब निजी एंबुलेंस अधिग्रहित करेगी सरकार

ठाणे में 15 दिनों में दोगुने हुए कोरोना मरीज, अब निजी एंबुलेंस अधिग्रहित करेगी सरकार

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महानगर से सटे ठाणे जिले में कोरोना के मामलों की संख्या पिछले एक पखवाड़े में लगभग दोगुनी हो गई है। जिले में एक मई से अब तक संक्रमण के मामलों में बेहद वृद्धि हुई है। ठाणे जिले में एक मई तक कोरोना वायरस संक्रमण के केवल 1,011 मामले थे जिनकी संख्या मंगलवार की रात तक बढ़कर 33,324 हो गई। बुलेटिन के अनुसार पिछले 15 दिन में ही जिले में संक्रमण के मामले 17,008 से बढ़कर 33,324 हो गए। जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार एक मई से अब तक कोरोना से हुई मौतों की संख्या भी 29 से बढ़कर 1,064 हो गई है। इस बीच संक्रमण के मामलों में वृद्धि को देखते हुए ठाणे, मीरा भायंदर और कल्याण डोम्बिवली के मनपा प्रशासन ने अगले दस दिन के लिए पूर्ण लॉकडाउन लागू कर दिया है। आदेश में कहा गया कि भिवंडी और नई मुंबई की महानगर पालिकाओं ने कुछ निषिद्ध क्षेत्रों में ही लॉकडाउन लागू करने की घोषणा की है।   


स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया शासनादेश 

वहीं राज्य में कोरोना मरीजों को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाने के लिए निजी एंबुलेंस का जिला प्रशासन अपने कब्जे में लेगा। इसको लेकर बुधवार को स्वास्थ्य विभाग की तरफ से शासनादेश जारी किया गया है। अधिग्रहित किए गए एंबुलेंस को गंभीर मरीजों के लिए इस्तेमाल में लाया जाएगा। राज्य में कोरोना मरीजों की तेजी से बढ़ती संख्या के मद्देनजर अधिक संख्या में एंबुलेंस की जरुरत है। इस लिए अब सरकार ने निजी, सामाजिक संस्थाओं के एंबुलेंस को अधिग्रहित करने का फैसला किया है। कोरोना संकट के दौरान निजी एंबुलेंस द्वारा अधिक दर वसूलने को लेकर लगातार शिकायतें मिल रही थी। अब सरकार निजी एंबुलेंस को अधिग्रहित कर उसकी दर तय करेगी। ये एंबुलेंस 24 घंटे उपलब्ध रहेंगी। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि एंबुलेंस अधिग्रहित करने की प्रक्रिया जिलाधिकारी और मनपा क्षेत्र में मनपा आयुक्त करेंगे। उन्होंने कहा कि जिलाधिकार व मनपा आयुक्त को कहा गया है कि ज्यादा दर वसूलने की शिकायत के लिए प्रणाली बनाया जाए। एंबुलेंस के लिए 108 नंबर पर सम्पर्क किया जा सकता है। 
 

कमेंट करें
lwNZG