comScore

मेडिकल में डायलिसिस टेक्नीशियन हुआ पॉजिटिव - स्वस्थ हुआ तो पता चला कि अब नहीं रही नौकरी

September 16th, 2020 14:18 IST
मेडिकल में डायलिसिस टेक्नीशियन हुआ पॉजिटिव - स्वस्थ हुआ तो पता चला कि अब नहीं रही नौकरी

डिजिटल डेस्क जबलपुर । कोरोना संकट ने जहाँ लाखों नौकरियाँ छीन लीं वहीं अब इसका दायरा स्वास्थ्य सेवाओं तक भी बढ़ गया है। संभवत: प्रदेश क्या देश का ही यह पहला मामला होगा कि मरीजों की जाँच करते पॉजिटिव हुए एक तकनीकी कर्मचारी को नौकरी से निकाला गया हो। नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज में हुई इस कार्रवाई पर कॉलेज प्रबंधन भी इसे निजी कंपनी हाईट्स का मामला बताकर पल्ला झाड़ रहा है।
यह है मामला 
  मेडिकल के मेडिसिन विभाग में 25 वर्षीय शुभम स्वामी चार सालों से डायलिसिस टेक्नीशियन के तौर पर काम कर रहा था। शुभम ने बताया कि 22 अगस्त को काम के दौरान उसकी तबियत बिगड़ी, वह 23 से काम पर उपस्थित नहीं हो सका। तबियत में सुधार न होने पर 26 को उसने कोविड टेस्ट कराया, अगले दिन रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर वह 14 दिन के लिए होम आइसोलेट व स्वास्थ्य विभाग के कहने पर 7 दिन घर में क्वारंटीन रहा। 12 सितंबर को डिस्चार्ज होने के बाद वह गत दिवस काम पर आया तो कंपनी के अधिकारियों ने उसे नौकरी से निकाले जाने की जानकारी दी। पीडि़त ने प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों, डीन से कार्रवाई की गुहार लगाई है।
इनका कहना है
यह मामला मेरी जानकारी में नहीं है, कंपनी प्रबंधन ही कर्मचारियों को रखता है। यदि इस टेक्नीशियन को नौकरी से निकाला गया है तो इसकी जानकारी ली जाएगी। जरूरत पडऩे पर उसे कहीं और काम पर रखेंगे।
-डॉ. अरविंद शर्मा प्रभारी अधीक्षक, मेडिकल कॉलेज अस्पताल
 

कमेंट करें
p8WeK