दैनिक भास्कर हिंदी: डीएम ने जब्त की नागपुर से आ रही बस -  औचक बॉर्डर पहुंचे, निरीक्षण कर दिए निर्देश

March 26th, 2021

डिजिटल डेस्क सिवनी । जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। गुरूवार को 14 नए केस सामने आए हैं। इससे जिला प्रशासन के माथे पर चिंता की लकीर खिंच गई है। कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग गुरूवार को औचक तरीके से महाराष्ट्र बॉर्डर स्थित अंतर्राज्यीय चैक पोस्ट पहुंच गए। कलेक्टर उस समय चकित रह गए जब रोक के बावजूद नागपुर की ओर से आ रही एक बस दिखी। बस को रोककर जब्त कर लिया गया। कलेक्टर ने चेक पोस्ट पर महाराष्ट्र की ओर से आने वाले लोगों की जांच के लिए तैनात दल द्वारा किए जा रहे कार्यों का निरीक्षण भी किया। निरीक्षण के दौरान आने-जाने वाले यात्रियों के संबंध जानकारी प्राप्त कर आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान  दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश खरपुसे, एआरटीओ देवेश बाथम, तहसीलदार गौरी शंकर शर्मा भी मौजूद रहे।
44 एक्टिव केस
14 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने से वर्तमान में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 44 हो गई है। सीएमएचओ डॉ. केसी मेशराम ने बताया कि नए मरीज मिलने के साथ ही 4 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। जिले में अब तक 74539 संदिग्ध व्यक्तियों के नमूने जांच हेतु लिए गए हैं। इनमें 1684 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं, जिनमें 1630 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में 30 मरीज होम कोरोनटाइन हैं, जिनकी मॉनिटरिंग कोविड कमांड एण्ड कंट्रोल सेंटर से की जा रही है।                  
सिवनी आ रही थी ओवरलोड बस
एमपी-महाराष्ट्र के मध्य बसों का संचालन प्रतिबंधित होने के बावजूद नागपुर से सिवनी के लिए चली बस क्रमांक एमपी 50 पी 0729 मनसर के पास स्थित महाराष्ट्र की चेकपोस्ट पार करते हुए प्रदेश की सीमा में खवासा बार्डर तक पहुंच गई। इसी दौरान औचक निरीक्षण के लिए कलेक्टर अफसरों सहित खवासा बॉर्डर पहुंच गए। बस को रोक लिया गया। बस में सवार यात्रियों, चालक, कंडक्टर से पूछताछ की गई तो पता चला बस सिवनी आ रही थी। बस में क्षमता से 25 सवारियां अधिक भरी थीं। किराया भी प्रति यात्री 7 से 8 सौ रुपए तक वसूला गया था। कलेक्टर के निर्देश पर एआरटीओ देवेश बाथम ने बस जब्त कर ली। कलेक्टर के निर्देश पर यात्रियों को गंतव्य तक पहुंचाया गया।