• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • EOW registered a case of fraud against five officials including District Superintendent of Methodist Church in India

शासन को लगाई करोड़ों की चपत: मैथोडिस्ट चर्च इन इंडिया के डिस्ट्रिक्ट सुप्रिटेंडेंट समेत पाँच पदाधिकारियों पर ईओडब्ल्यू ने दर्ज किया धोखाधड़ी का प्रकरण

May 10th, 2022


डिजिटल डेस्क जबलपुर। आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ जबलपुर ने मैथोडिस्ट चर्च इन इंडिया के डिस्ट्रिक्ट सुप्रिटेंडेंट समेत पाँच पदाधिकारियों के िखलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया है। आरोपियों ने 2004 व 2005 में नजूल की जमीन के लीज नवीनीकरण का आदेश कराने के बावजूद भू-भाटक और प्रीमियम के साढ़े 7 करोड़ रुपए जमा कराए बिना नजूल की जमीन पर िनर्माण करा लिए थे।
शासन को लगाई करोड़ों की चपत
एसपी ईओडब्ल्यू देवेंद्र सिंह राजपूत ने बताया कि सिविल स्टेशन की नजूल की भूमि के लीज नवीनीकरण का पैसा नहीं जमा कराने को लेकर पूर्व में शिकायत मिली थी। जिसकी जाँच निरीक्षक स्वर्णजीत सिंह धामी ने की थी। शिकायत में पीलीकोठी से क्रिश्चियन स्कूल मार्केट के बीच स्थित नजूल प्लाट नंबर 4, 5, 8-1 सिविल स्टेशन की नजूल भूमि पर शासन की ड्यूटी की चोरी करने और भू-भाटक प्रीमियम न जमा कर शासन को करोड़ों रुपए की चपत लगाने का दावा किया गया था। जाँच में पाया गया कि मैथोडिस्ट चर्च इन इंडिया के सेक्रेटरी द्वारा वर्ष 2004 में ब्लॉक नंबर 4, प्लाट नंबर 5 रकबा 0.9866 एकड़ की नजूल की भूमि के लीज नवीनीकरण के लिए आवेदन दिया था। जमीन का भू-भाटक जमा करने की शर्त पर 19 जनवरी 2005 को तहसीलदार की अनुशंसा पर कलेक्टर ने लीज नवीनीकरण का आदेश जारी किया था।
पौने तीन एकड़ जमीन का मामला
इसी तरह ब्लॉक नंबर 4 और प्लाट नंबर 8-1 की 2.9838 (करीब पौने तीन एकड़) नजूल की भूमि का लीज नवीनीकरण का आवेदन पेश करने पर रांझी तहसीलदार की अनुशंसा पर कलेक्टर ने 13 दिसंबर 2004 को भू-भाटक जमा करने पर लीज नवीनीकरण के आदेश जारी किए थे। लेकिन इसके बाद भी प्रीमियम राशि जमा नहीं की और शॉपिंग कॉम्पलेक्स बनाकर कई जगहों को बेच िदया और कई से किराया वसूला जा रहा है। मैथोडिस्ट चर्च इन इंडिया के पदाधिकारियों द्वारा नजूल की भूमि के पट्टों का पंजीयन और साथ ही भू-भाटक की राशि 7 करोड़ 62 लाख 16 हजार 432 रुपए की शासन को क्षति पहुँचाई है।
इनके खिलाफ हुई कार्रवाई
ईओडब्ल्यू ने आज पाँचों आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया। आरोपियों में तत्कालीन डिस्ट्रिक्ट सुपरिडेंटेंट मैथोडिस्ट चर्च इन इंडिया रेव जॉन आर. साइमन, एग्जीक्यूटिव सेक्रेटरी मनीष गीडियन, बिशप मैथोडिस्ट चर्च एम. डेनियल, ले. लीडर रविकुमार प्रसाद और ट्रेजरार चर्च इन इंडिया रीजनल कान्फ्रेंस एरिकनाथ को आरोपी बनाया गया है।
पी-3