comScore

गेहूँ खरीदी में सवा करोड़ का फर्जीवाड़ा - कचरा माल का लगाया ढ़ेर

गेहूँ खरीदी में सवा करोड़ का फर्जीवाड़ा - कचरा माल का लगाया ढ़ेर

डिजिटल डेस्क जबलपुर। गेहूँ खरीदी केंद्र बेलखेड़ा, उडऩा मेढ़ी में उपार्जन नीति की धज्जियाँ उड़ाते हुए ई-उपार्जन पोर्टल पर किसानों के नाम से फर्जी प्रविष्टियाँ करने व कचरा रेत, मिट्टी मिला हुआ गेहूँ बाहर से मँगवाकर ढेर लगवा दिया गया। खरीदी में जमकर की गयी धाँधली उजागर होने व  खरीदी केद्रों की जाँच में 5 सौ 86 मीट्रिक टन गेहूँ कम मिलने व करीब सवा करोड़ की धोखाधड़ी उजागर होने पर पाटन थाने में  समिति प्रबंधक, केंद्र प्रभारी व ऑपरेटर के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। 
सूत्रों के अनुसार कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी वसुंधरा पेंड्रो ने थाने में एक लिखित शिकायत दी जिसमें बताया गया कि जिला विपणन अधिकारी विवेक तिवारी द्वारा खरीदी केंद्र बेलखेड़ा, उडऩा मेढ़ी क्रमांक 3 व 4 कोड का निरीक्षण किया गया, जिसमें गंभीर अनियमितताएँ पाई गयी थीं।  जाँच में पता चला कि समिति प्रबंधक, खरीदी प्रभारी एव ऑपरेटर द्वारा उपार्जन नीति एवं जिला स्तर से जारी निर्देशों के विपरीत गेहूँ का उपार्जन किया गया तथा ई-उपार्जन पोर्टल पर मात्रा 685 मीट्रिक टन गेहूँ कीमत 1 करोड़ 32 लाख 5 हजार रुपये की फर्जी प्रविष्टि कर धोखाधड़ी की गई। खरीदी केंद्र 3 में 148 मीट्रिक टन गेहूँ की कमी पाई गयी और उपार्जन पोर्टल पर 28 लाख 49 हजार किसानों के नाम पर फर्जी ई-प्रविष्टियाँ दर्ज की गयीं। इसी प्रकार केन्द्र क्रमांक 4 में खरीदी स्थल पर 538 मीट्रिक टन गेहूँ की कमी थी और पोर्टल पर 1 करोड़ 3 लाख 56 हजार किसानों के नाम पर फर्जी ई-प्रविष्टियाँ दर्ज की गयी थीं। शिकायत पर खरीदी केंद्र  के समिति प्रबंधक मुन्ना लाल बरखेड़ा, खरीदी प्रभारी रोहित शर्मा एवं ऑपरेटर अनुज दुबे के खिलाफ धारा 420, 467, 468, 470, 34 के तहत मामला दर्ज कर जाँच में लिया गया है। 
ढाई हजार क्विंटल गेहूँ अमानक 
शिकायत में बताया गया कि खरीदी केंद्रों की जाँच के दौरान पता चला कि इन केंद्रों से भंडारण के लिए 2 हजार 574 क्विंटल गेहूँ भेजा गया था, उसमें रेत, मिट्टी मिक्स थी। भंडारण के लिए भेजा गया गेहूँ अमानक क्वॉलिटी का था। 
पुराने बारदानों से मँगाया गेहूँ 
 जाँच में पता चला कि ट्रक क्रमांक एमपी 20 जीए 7506 से पुराने बारदाने में मिट्टी एवं कुसी युक्त गेहूँ अन्यत्र स्थानों से भरकर लाया गया एवं उक्त बोरों से गेहूँ खाली कर खरीदी स्थल में ढेर लगाए गये थे।
 

कमेंट करें
dnvXj