दैनिक भास्कर हिंदी: फिल्मी अंदाज में युवक और युवती की गोली मारकर हत्या - चित्रकूट में दिन-दहाड़े वारदात से सनसनी

January 18th, 2021

डिजिटल डेस्क सतना। नयागांव थाना अंतर्गत सेमरिया मोड़ के पास कार सवार युवक और युवती की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई है तो वहीं पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक रविवार दोपहर तकरीबन 3 बजे अल्टो कार क्रमांक सीजी 10 एई 8186 तेजी से रजौला बाईपास की तरफ बढ़ रही थी, तभी पीछे से आई दूसरी कार में सवार हमलावरों ने गाड़ी रुकवाने का प्रयास किया और फायर भी किया। मगर नाकाम रहे तो ओवर टेक करने लगे, लगभग 100 मीटर तक आगे निकलने की होड़ के बाद अल्टो कार सडक़ से उतरकर पलट गई, जिसके चालक ने बाहर निकलकर भागने का प्रयास किया तो हमलावरों की कार ने उसे कुचल दिया, इसके बाद एक युवक कार से नीचे उतरा और युवक पर फायर झोंकने के बाद दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी में फंसी युवती की कमर के पास राइफल लगाकर गोली मार दी। दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने के बाद हमलावर भाग निकले। पहले किसी ने मुंह नहीं खोला, मगर जब पुलिस ने आसपास पूछताछ की तो कुछ चरवाहे सामने आए, जिन्होंने कारों की रेस के बाद एक युवक को नीचे उतरकर राइफल से गोली चलाने का बयान दिया। रास्ते से निकलने वाले लोगों ने सडक़ पर पड़े युवक और पलटी कार देखकर नयागांव थाने में दुर्घटना की खबर दी तो पुलिस मौके पर पहुंच गई, लेकिन जब कार को सीधा करवाया गया तो युवती के शरीर पर गोली लगने के निशान और सीट के पास ही 315 बोर का खोका मिलने से हादसे की मामला हत्या में बदल गया। फौरन ही यह सूचना एसपी को दी गई तो उन्होंने एडिशनल एसपी सुरेन्द्र जैन को चित्रकूट रवाना कर दिया और देर शाम फॉरेन्सिक टीम के साथ खुद भी मौके पर पहुंच गए। प्रारंभिक जांच में राइफल से तीन फायर होने की सामने आई है। पुलिस की पांच अलग-अलग टीमें चित्रकूट के सभी रास्तों से लेकर सतना की तरफ सीसीटीवी कैमरे खंगालने के लिए लगा दी गई हैं। 
आधार कार्ड से हुई दोनों की पहचान
मृृतक के कपड़ों और कार की तलाशी लेने पर परिचय पत्र व आधार कार्ड मिले, जिनसे मृतक की पहचान उत्तरप्रदेश के हमीरपुर जिला निवासी अनुज कुमार दीक्षित पुत्र श्याम दीक्षित 35 वर्ष के रूप में की गई जो कि भाटिया शराब कम्पनी के सतना कार्यालय में कैशियर की नौकरी करता था, जबकि युवती की शिनाख्त प्रिया सिंह पुत्री पुष्पेन्द्र सिंह 25 वर्ष निवासी अमौधा सिविल लाइन के रूप में की गई थी। पहचान होते ही परिजनों से सम्पर्क किया गया तो लडक़ी के घर वाले चित्रकूट पहुंच गए, जिनसे पूछताछ में पता चला कि वह एक कोचिंग में जाती थी और रविवार सुबह मां से कोचिंग जाने की बात कहकर ही घर से निकली थी, तब उसके पिता खेत गए हुए थे। वहीं देर शाम युवक के घर वाले भी चित्रकूट आ गए। 
आसपास ही रहते हैं मृतक, युवती के परिजन ने रामप्रसाद पर जताया संदेह
एसपी धर्मवीर सिंह ने बताया कि अनुज शादी-शुदा है, जिसकी पत्नी गांव में रहती है, जबकि वह काम के सिलसिले में सतना के विराट नगर में किराए पर कमरा लेकर रहता है। कुछ वक्त पहले तक  युवक इसी मोहल्ले में युवती के पिता पुष्पेन्द्र सिंह के मकान में किराए से रहता था। मृतका के परिजनों ने रामप्रसाद नामक एक व्यक्ति पर हत्या का आरोप लगाया है, जिसके साथ उनका लम्बे समय से विवाद चल रहा है। इस आरोप पर पुलिस ने विराट नगर में उसके घर पर दबिश दी, मगर संदेही वहां नहीं मिला। ऐसे में परिजनों की निगरानी के साथ ही कई टीमों को रामप्रसाद की तलाश में लगा दिया गया है। 
 

खबरें और भी हैं...